खोज

Vatican News
नजफ़ शहर से गुज़रता सन्त पापा फ्राँसिस का काफ़िला, 06.03.2021 नजफ़ शहर से गुज़रता सन्त पापा फ्राँसिस का काफ़िला, 06.03.2021  (AFP or licensors)

सन्त पापा फ्राँसिस की ईराक यात्रा पर बुज़ुर्गों की मुस्लिम परिषद

ईराक में काथलिक कलीसिया के परमधर्मगुरु सन्त पापा फ्राँसिस की ऐतिहासिक यात्रा पर टीका करते हुए ईराक में बुज़ुर्गों की मुस्लिम परिषद ने एक बयान जारी कर कहा कि यह यात्रा ईराक तथा सम्पूर्ण विश्व में हिंसा के शिकार बने लोगों के लिये एकात्मता का सन्देश है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

बगदाद, शनिवार, 6 मार्च 2021 (वाटिकन न्यूज़): ईराक में काथलिक कलीसिया के परमधर्मगुरु सन्त पापा फ्राँसिस की ऐतिहासिक यात्रा पर टीका करते हुए ईराक में बुज़ुर्गों की मुस्लिम परिषद ने एक बयान जारी कर कहा कि यह यात्रा ईराक तथा सम्पूर्ण विश्व में हिंसा के शिकार बने लोगों के लिये एकात्मता का सन्देश है।  

शांति का महान अवसर

मुस्लिम परिषद के बयान में कहा गया, "सन्त पापा फ्राँसिस की ईराक यात्रा इस क्षेत्र एवं तमाम दुनिया में शांति को बढ़ावा देने का एक महान अवसर प्रदान करती है। वर्षों के विनाश और युद्ध के बाद, हमारा विश्वास है कि उनकी ऐतिहासिक यात्रा ईराकी लोगों के घावों का उपचार करने में मदद प्रदान करेगी, तथा सहिष्णुता और सह-अस्तित्व से परिपूर्ण उज्जवल भविष्य की आशा को मज़बूत करेगी।"

सन्त पापा की प्रशंसा में

परिषद के बयान में आगे कहा गया, "कई चुनौतियों के बावजूद, यात्रा करने का सन्त पापा फ्राँसिस का आग्रह मानव भाईचारे के प्रति उनके पूर्ण विश्वास का प्रमाण है तथा साथ ही घृणा, संप्रदायवाद और संघर्ष के समक्ष समानता को बनाए रखने की उनकी इच्छा का प्रतिबिंब है।"

बुज़ुर्गों की मुस्लिम परिषद के महासचिव डॉ. सुल्तान अल-रहमति ने कहा, "मुस्लिम जगत में सन्त पापा फ्राँसिस की विभिन्न यात्राओं ने पूर्व एवं पश्चिम के बीच सम्वाद एवं मैत्री को मज़बूत कर मानवता की महान सेवा की है।"

 

06 March 2021, 11:25