खोज

Vatican News
बगदाद में हवाई अड्डे के ओर-छोर सन्त पापा फ्राँसिस के आगमन के लिये प्रतीक्षारत जनसमूह बगदाद में हवाई अड्डे के ओर-छोर सन्त पापा फ्राँसिस के आगमन के लिये प्रतीक्षारत जनसमूह 

सन्त पापा की ईराकी यात्रा सम्पूर्ण अरब के लिये महत्वपूर्ण

सन्त पापा फ्राँसिस की, पाँच से आठ मार्च तक जारी प्रेरितिक यात्रा की पूर्व सन्ध्या मानव बिरादरी सम्बन्धी उच्च समिति, "हायर कमिटी ऑफ ह्यूमन फ्राटेर्नीटी" नामक ईराकी समिति ने एकात्मता एवं सह-अस्तित्व के मूल्यों को रेखांकित करते हुए कहा कि सन्त पापा की ईराकी यात्रा केवल ईराक के लिये ही नहीं अपितु सम्पूर्ण अरब जगत के लिये अर्थपूर्ण है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 5 मार्च 2021 (वाटिकन न्यूज़): सन्त पापा फ्राँसिस की, पाँच से आठ मार्च तक जारी प्रेरितिक यात्रा की पूर्व सन्ध्या मानव बिरादरी सम्बन्धी उच्च समिति, "हायर कमिटी ऑफ ह्यूमन फ्राटेर्नीटी" नामक ईराकी समिति ने एकात्मता एवं सह-अस्तित्व के मूल्यों को रेखांकित करते हुए कहा कि सन्त पापा की ईराकी यात्रा केवल ईराक के लिये ही नहीं अपितु सम्पूर्ण अरब जगत के लिये अर्थपूर्ण है। 

आब्देल सालेम का वकतव्य

सन्त पापा फ्राँसिस के विश्व पत्र "फ्रातेल्ली तूती" में निहित सन्देश के मूल्यों पर बल देते हुए  ह्यूमन फ्राटेर्नीटी के महासचिव न्यायाधीश मोहामेद महमूद आब्देल सालेम ने, गुरुवार को, एक वकतव्य जारी कर कहा, "युद्ध, विभाजन और आतंकवाद से विगत कई वर्षों से पीड़ित ईराक में, सन्त पापा फ्राँसिस की ऐतिहासिक यात्रा तथा कोविद महामारी के बावजूद ईराकी लोगों को समर्थन देने का सन्त पापा का संकल्प, उनके मानवीय दृष्टिकोण का स्पष्ट संकेत है, जिसके लिये उन्होंने अपना सारा जीवन समर्पित कर दिया है।"

सम्पूर्ण अरब जगत के लिये अर्थपूर्ण

आब्देल सालेम ने कहा कि सन्त पापा फ्राँसिस की ईराक यात्रा न केवल ईराक के लिये अपितु सम्पूर्ण मध्यपूर्व एवं अरब जगत के लिये महत्वपूर्ण है। उनके अनुसार, "यह यात्रा सन्त पापा फ्राँसिस के विश्वपत्र "फ्रातेल्ली तूती" में निहित मानवीय भाईचारे के सिद्धान्तों को मूर्तरूप प्रदान करती है।"

ह्यूमन फ्राटेर्नीटी की उच्च समिति के महासचिव कहते हैं कि सन्त पापा फ्राँसिस की यात्रा का पूरा कार्यक्रम और उनके द्वारा चुने गये स्थानों और शहरों की सूची, सभी ईराकी लोगों के साथ संवाद करने की उनकी इच्छा को व्यक्त करती है। उन्होंने कहा, "निःसन्देह, यह यात्रा सम्पूर्ण अरब जगत के लिये अर्थगर्भित है। यह यात्रा ईराक एवं इसकी सीमाओं के परे भी हिंसा एवं आतंकवाद के शिकार बने लोगों के प्रति एकजुटता, भ्रातृत्व, शांति एवं नागर मूल्यों का सन्देश पहुँचानेवाली यात्रा है।"

05 March 2021, 11:39