खोज

Vatican News
येसु की दिव्य करुणा की तस्वीर येसु की दिव्य करुणा की तस्वीर 

दिव्य करुणा के संदेश पर पोप ˸ हम येसु के लिए अपना हृदय खोलें

संत पापा फ्रांसिस ने देवदूत प्रार्थना के उपरांत विश्वासियों का अभिवादन किया तथा उन्हें दिव्य करुणा के लिए अपना हृदय खोलने का आह्वान किया। उन्होंने पोलैंड में प्लोक तीर्थस्थल की याद की जहाँ आज से 90 वर्षों पहले प्रभु येसु ने संत फौस्तिना को दर्शन दिये थे।

उषा मनोरमा तिरकी-सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार, 22 फरवरी 2021 (रेई)- देवदूत प्रार्थना के उपरांत उन्होंने सभी तीर्थयात्रियों एव पर्यटकों का अभिवादन किया।

उन्होंने कहा, "मैं आप सभी रोमवासियों एवं तीर्थयात्रियों का हार्दिक अभिवादन करता हूँ, खासकर, मैं पोलैंड के विश्वासियों का अभिवादन करता हूँ।" संत पापा ने पोलैंड में प्लोक तीर्थस्थल की याद की जहाँ आज से 90 वर्षों पहले प्रभु येसु ने संत फौस्तिना को दर्शन दिये थे तथा उन्हें दिव्य करुणा का विशेष संदेश दिया था। संत पापा जॉन पौल द्वितीय के समय में यह संदेश दुनियाभर में फैला और यह कोई दूसरा संदेश नहीं है बल्कि येसु ख्रीस्त के मरने और जी उठने का सुसमाचार है जो पिता की करुणा प्रदान करता है। संत पापा ने विश्वासियों से कहा, "हम अपना हृदय खोलें, यह कहते हुए कि ˸ येसु मैं आप पर भरोसा रखता हूँ।"  

इसके बाद संत पापा ने रोम में फ्योरेंतीनी स्थित संत योहन पल्ली के तालिथा कुम दल के युवाओं एवं वयस्कों का अभिवादन किया। उन्होंने उनकी उपस्थिति के लिए धन्यवाद देते हुए, उन्हें अच्छी योजनाओं में आगे बढ़ने का प्रोत्साहन दिया।

अंत में उन्होंने प्रार्थना का आग्रह करते हुए सभी को सुभ रविवार की मंगलकामनाएँ अर्पित की।   

         

22 February 2021, 10:46