खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस  

प्रभु के साथ संयुक्त रहने का अर्थ

संत पापा फ्राँसिस ने ख्रीस्तीय एकता सप्ताह में ख्रीस्तियों को निमंत्रण दिया कि ख्रीस्त के साथ एवं एक दूसरे के साथ एकता में बढ़ने का प्रयास करें जिससे कि हम अपने आपसे बाहर निकल सकें।

उषामनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 19 जनवरी 2021 (रेई)- संत पापा फ्राँसिस ने 19 जनवरी के ट्वीट संदेश में ख्रीस्तीय एकता को प्रोत्साहन देते हुए लिखा, "येसु हमें निमंत्रण देते हैं कि हम उनसे संयुक्त रहें ताकि प्रचुर फल ला सकें (यो.15,5-9) प्रभु के साथ संयुक्त रहने का अर्थ है, अपने आपसे बाहर निकलने का साहस करना ताकि हम दूसरों की जरूरतों पर ध्यान दे सकें और दुनिया में ख्रीस्तीय साक्ष्य दे सकें।"

19 January 2021, 16:13