खोज

Vatican News
संत पेत्रुस प्रांगण के निकट घर के बाहर सोये, आवासहीन लोग संत पेत्रुस प्रांगण के निकट घर के बाहर सोये, आवासहीन लोग 

संत पेत्रुस प्रांगण के निकट मृत पाये गये एडविन के लिए पोप की प्रार्थना

संत पापा फ्रांसिस ने रविवार को देवदूत प्रार्थना के उपरांत संत पापा ने विभिन्न घटनाओं की याद की। ईश वचन रविवार, ख्रीस्तीय एकता प्रार्थना सप्ताह के समापन एवं पत्रकारों की याद करने के साथ, उन्होंने नाईजीरिया के आवासहीन व्यक्ति एडविन की भी याद की, जिसकी मृत्यु 20 जनवरी को संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण के निकट ठंढ़ के कारण हो गई।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार, 25 दिसम्बर (रेई)- संत पापा फ्रांसिस ने रविवार को देवदूत प्रार्थना के उपरांत एडविन की याद की, जिसकी मृत्यु 20 जनवरी को संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण के निकट ठंढ़ के कारण हो गई। 

संत पापा ने कहा, "20 जनवरी को संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण से कुछ ही मीटर की दूरी पर, नाईजीरिया के एक 46 वर्षीय आवासहीन व्यक्ति, जिसका नाम एडविन था, उसे ठंढ़ के कारण मृत पाया गया। उसकी घटना, कई आवासहीन लोगों की दुखद मौत का हिस्सा है जो रोम में फिलहाल इसी तरह मर गये हैं। हम एडविन के लिए प्रार्थना करें।"

संत पापा ने संत ग्रेगोरी महान की चेतावनी की याद की जिन्होंने ठंढ़ के कारण एक भिखारी की मृत्यु पर कहा था कि उस दिन मिस्सा नहीं चढ़ाया जाएगा क्योंकि यह पुण्य शुक्रवार के दिन के समान है। संत पापा फ्रांसिस ने कहा, "हम एडविन की याद करें, उसने क्या महसूस किया उसपर गौर करें, वह 46 वर्ष का था, ठंढ़ महसूस किया, सभी लोगों से उपेक्षित, परित्यक्त, हम सबी के द्वारा भी छोड़ दिया गया महसूस किया। आइये हम उनके लिए प्रार्थना करें।"

ईश वचन रविवार

देवदूत प्रार्थना के उपरांत उन्होंने विश्वासियों का अभिवादन करते हुए विभिन्न घटनाओं की याद की। ईश वचन रविवार की याद करते हुए उन्होंने कहा, "प्यारे भाइयो एवं बहनो, यह रविवार ईश वचन को समर्पित है। हमारे समय में, कलीसिया के जीवन में एक महान वरदान है हर स्तर पर पवित्र धर्मग्रंथ की खोज। आज के समान सभी के लिए सुलभ यह कभी नहीं हो पाया था ˸ सभी भाषाओं में और अब दृश्य-श्रव्य और डिजिटल प्रारूप में। संत जेरोम कहते हैं कि जो बाईबिल की उपेक्षा करता, वह ख्रीस्त की उपेक्षा करता है। येसु में शब्द ने शरीर धारण किया, मरे और जी उठे जो हमारे मन को खोल देते हैं कि हम धर्मग्रंथ को समझ सकें।(लूक.24˸45) यह खासकर धर्मविधि में होता है किन्तु जब हम अकेले अथवा समूह में प्रार्थना करते हैं तब भी होता है, खासकर, सुसमाचार और स्तोत्र पाठ में।"

संत पापा ने उन पल्लियों को धन्यवाद और प्रोत्साहन दिया जो ईश वचन को सिखाने और सुनने के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कहा, "हम सुसमाचार को बोने से कभी न थकें।" "अपने पॉकेट में सुसमाचार की छोटी प्रति रखने की आदत बनायें, जिससे कि आप दिन में कम से कम तीन या चार पंक्तियाँ पढ़ सकेंगे। सुसमाचार की प्रति हमेशा हमारे साथ रहे।"

ख्रीस्तीय एकता प्रार्थना सप्ताह

तब संत पापा ने ख्रीस्तीय एकता प्रार्थना सप्ताह के समापन दिवस की याद करते हुए कहा, कल दूसरी बेला, संत पौल महागिरजाघर में, ख्रीस्तीय एकता प्रार्थना सप्ताह के अंत में, संत पौलुस के मन-परिवर्तन पर्व के अवसर पर, संध्या प्रार्थना करेंगे, जिसमें दूसरी कलीसियाओं के प्रतिनिधि एवं कलीसियाई समुदाय भी भाग लेंगे। मैं आप सभी से आग्रह करता हूँ कि आप हमारी इस प्रार्थना में आध्यात्मिक रूप से भाग लें।  

पत्रकारों को संत पापा का प्रोत्साहन

संत पापा ने संत फ्राँसिस दी सेल्स पत्रकारों के संरक्षक की भी याद की। उन्होंने कहा, "मैं सभी पत्रकारों एवं संचारकों को प्रोत्साहन देता हूँ कि आप वहाँ भी जायें और देखें जहाँ कोई नहीं जाना चाहता और सच्चाई प्रकट करें।"  

अंत में, उन्होंने संचार माध्यमों से जुड़े सभी विश्वासियों का अभिवादन किया। उन्होंने इस समय में संघर्ष कर रहे परिवारों की विशेष याद की। उनके लिए अपनी प्रार्थना का आश्वासन दिया एवं प्रोत्साहन देते हुए कहा, "ढाढ़स रखें, हम आगे बढ़ें। आइये हम इन परिवारों के लिए प्रार्थना करें और यदि संभव हो तो उनके पड़ोसी बनें।"

अंततः अपने लिए प्रार्थना का आग्रह करते हुए संत पापा ने सभी को शुभ रविवार की मंगलकामनाएं अर्पित की।   

25 January 2021, 14:12