खोज

Vatican News
एकता में जुड़े हुए हाथ एकता में जुड़े हुए हाथ 

एकता हमेशा संघर्ष से बड़ी होती है, संत पापा

संत पापा फ्राँसिस ने सभी ख्रीस्तियों को प्रार्थना करने के लिए प्रोत्साहित करते हुए ख्रीस्तीय एकता प्रार्थना सप्ताह का परिचय दिया कि सभी की एकता येसु की इच्छा थी, उनकी इच्छा पूरी हो।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 18 जनवरी 2021 (वाटिकन न्यूज) : रविवार को प्रेरितिक भवन के पुस्तकालय से देवदूत प्रार्थना का पाठ करने के बाद, संत पापा फ्राँसिस ने कहा कि "कल एक महत्वपूर्ण दिन है", क्योंकि इस दिन ख्रीस्तीय एकता के लिए प्रार्थना सप्ताह शुरु होता है।

ख्रीस्तीय एकता के लिए प्रार्थना सप्ताह

संत पापा फ्राँसिस ने बताया कि इस साल की थीम "येसु के अनुरोध पर प्रकाश डालती है कि हम उनके प्यार में बने रहें ताकि हम अधिक फल उत्पन्न कर सकें"। उन्होंने याद दिलाया कि 25 जनवरी को रोम के बाहर संत पौल महागिरजाघर में "रोम में अन्य कलीसियाओं और ख्रीस्तीय समुदायों के प्रतिनिधि साथ मिलकर "संध्या वंदना के साथ ख्रीस्तीय एकता के लिए प्रार्थना सप्ताह का समापन करेंगे।

संत पापा ने कहा, "आइए, इन दिनों में, हम एक साथ प्रार्थना करें ताकि येसु की इच्छा पूरी हो सके -हम सब एक हो सकें:एकता, हमेशा संघर्ष से बड़ी होती है।"

आप ख्रीस्तीय एकता को बढ़ावा देने के लिए बनी पोंटिफिकल काउंसिल की वेबसाइट पर ख्रीस्तीय एकता के लिएसप्ताह की प्रार्थना 2021 के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

काथलिकों और यहूदियों के बीच संवाद

संत पापा फ्राँसिस ने यह भी कहा कि, इटली में "काथलिकों और यहूदी भाइयों और बहनों के बीच संवाद को बढ़ावा देने और विकसित करने के लिए "32वाँ  दिवस" मनाया जा रहा है।

संत पापा ने उम्मीद जताई कि यह प्रक्रिया, जो 30 वर्षों से चल रही है, "भ्रातृत्व और सहयोग के फल" ला सके।

18 January 2021, 15:20