खोज

Vatican News
टाईग्रे में संघर्ष से भागते लोग टाईग्रे में संघर्ष से भागते लोग 

"एड टू द चर्च इन नीड": टाइग्रे में संभावित अत्याचार

परमधर्मपीठीय फाऊँडेशन "एड टू द चर्च इन नीड" ने सचेत किया है कि इथोपिया के टाइग्रे में संघर्ष के कारण सैंकड़ों लोगों की मौत हो गई है तथा दुकान, स्कूल, गिरजाघर और कॉन्वेंटों को लूटा एवं नष्ट किया गया है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

टाइग्रे, मंगलवार, 26 जनवरी 2021 (वीएनए)- एट टू द चर्च इन नीड की परियोजना व्यवस्थापक रेजिना लिंच के अनुसार जिन लोगों ने क्षेत्र का दौरा किया है वे बतला रहे हैं कि पिछले नवंबर में अक्सुम में सेंट मेरी ऑफ सियोन के ऑर्थोडॉक्स चर्च पर हमला में क्षेत्र के करीब 750 लोगों की हत्या हुई है। लिंच कहती हैं कि वास्तविक हत्याकांड का कारण क्या होगा, इसके सटीक विवरण को सत्यापित करना संभव नहीं है क्योंकि उस क्षेत्र में जाना, इस समय संभव नहीं है एवं संचार पर बहुत अधिक प्रतिबंद्ध है।

भयभीत लोग

हालांकि, एड टू द चर्च इन नीड ने टाइग्रे के विभिन्न हिस्सों से कई निर्दोष लोगों की हत्याओं एवं हमलाओं की पुष्टि प्राप्त की है जिसमें अक्सुम क्षेत्र भी शामिल है और वहाँ लोग भयभीत हैं।

टाइग्रे प्रांत जिसकी राजधानी मेकेले है इथोपिया का उत्तरी प्रांत है और एरिट्रीया एवं सुडान की सीमा पर स्थित है, करीब 95 प्रतिशत लोग ख्रीस्तीय हैं जो टाइग्रे जनजातीय समुदाय से हैं एवं इथोपियाई कोप्टिक ऑर्थोडोक्स कलीसिया में आते हैं।

टाइग्रे पर कब्जा करने के लिए संघर्ष का यह तीसरा महिना है। टाइग्रे पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट और इथियोपियाई सेना, एक-दूसरे के खिलाफ सत्ता के लिए लड़ रहे हैं। स्रोतों का कहना है कि सैंकड़ों लोग मारे गये हैं जबकि दुकान, स्कूल, गिरजाघर, कॉन्वेंट और घरों को लूटा एवं नष्ट किया गया है।  

अपनी जान बचाने के लिए भागना

करीब 2 मिलियन लोग विस्थापित हुए हैं जिनमें करीब 60,000 लोग सूडान चले गये हैं किन्तु बाकी लोग सुदूर पहाड़ों में शरण की खोज कर रहे हैं जहाँ न पानी की सुविधा है और न भोजन।

यद्यपि संघर्ष के कारण सैंकड़ों ख्रीस्तियों की मौत हो गई है, विश्लेषक कहते हैं कि हिंसा धर्म से नहीं बल्कि राजनीति से प्रेरित है।

लिंच ने टाइग्रे के उस लोगों के लिए सुविधा की अपील की है जो अपने जीवन को दाँव पर लगा रहे हैं, परेशानी की स्थिति में दुनिया से अलग जी रहे हैं तथा हिंसा एवं आतंक से भयभीत हैं।  

 

26 January 2021, 18:26