खोज

Vatican News
इराक के राष्ट्रपति बारहाम सारेह के साथ संत पापा फ्राँसिस इराक के राष्ट्रपति बारहाम सारेह के साथ संत पापा फ्राँसिस   (AFP)

संत पापा द्वारा इराक की पहली प्रेरितिक यात्रा

वाटिकन ने घोषणा की कि संत पापा फ्राँसिस 5-8 मार्च 2021 को इराक की प्रेरितिक यात्रा में बगदाद, मोसुल क़ाराक़ोश और उर के मैदान का दौरा करेंगे।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 07 दिसम्बर 2020 (रेई) : संत पापा फ्राँसिस ने अंतरराष्ट्रीय यात्रा के 15 महीने का अंतराल में मध्य पूर्वी देश इराक की ऐतिहासिक यात्रा सुनिश्चित किया है।

वाटिकन प्रेस कार्यालय के निदेशक, मत्तेओ ब्रूनी ने सोमवार को इस खबर की घोषणा की, जिसमें कहा गया था कि संत पापा ने इराक गणराज्य और स्थानीय काथलिक कलीसिया के निमंत्रण को स्वीकार कर लिया है। वे  5-8 मार्च 2021 को प्रेरितिक यात्रा के दौरान वे बगदाद, उर का मैदान, जो अब्राहम, की स्मृति से जुड़ा हुआ है, एरबिल शहर, साथ ही नीनवे के मैदान में मोसुल और क़ाराक़ोश का भी दौरा करेंगे।

निदेशक मत्तेयो ब्रूनी ने कहा कि विश्वव्यापी स्वास्थ्य आपातकाल के विकास को ध्यान में रखते हुए यात्रा के कार्यक्रम को नियत समय पर बता दिया जाएगा।

लंबे समय की इच्छा

संत पापा फ्राँसिस ने लंबे समय से इराक जाने की इच्छा जताई थी।

10 जून 2019 को उन्होंने काथलिक सहायता एजेंसियों की एक बैठक में बताया कि पहले से ही उन्होंने 2020 में इराक यात्रा करने की योजना बनाई है।

उनहोंने कहा, "मैं लगातार इराक के बारे सोचता हूँ - जहां मैं अगले साल जाना चाहता हूँ - मेरी उम्मीद है कि यह धर्म और समाज की आम भलाई के शांतिपूर्ण और साझा खोज के माध्यम से भविष्य का सामना करे और क्षेत्रीय शक्तियों के टकराव के कारण शत्रुता में वापस न जाए।"

संत पापा के सपने साकार

संत पापा की यात्रा अपने पूर्ववर्ती संत पापा जॉन पॉल द्वितीय के सपने के साकार होने के रूप में आएगी। संत पापा जॉन पॉल द्वितीय ने 1999 के अंत में इराक की यात्रा करने की योजना बनाई थी। यह यात्रा सफल नहीं हुई क्योंकि लंबी बातचीत के बाद, सद्दाम हुसैन ने इसे स्थगित कर दिया था।

कार्डिनल लुई राफेल साको के अनुसार,  बाबिलोन खलदेई कलीसिया के प्रधिधर्माध्यक्ष संत पापा फ्राँसिस का इराक में गर्मजोशी के साथ स्वागत करेंगे।

उन्होंने एक साल पहले एसआईआर समाचार एजेंसी को बताया कि "इराक में सभी लोग, ईसाई और मुस्लिम, उनकी सादगी और अपनापन के लिए उन्हें [संत पापा फ्रांसिस] का सम्मान करते हैं। उनके शब्द हर किसी के दिल को छू जाते हैं क्योंकि वे एक चरवाहे हैं और शांति लाने वाले व्यक्ति हैं।”

07 December 2020, 15:26