खोज

Vatican News
धर्मविधि का संचालन करते कार्डिनल कॉनराड क्रजेवस्की धर्मविधि का संचालन करते कार्डिनल कॉनराड क्रजेवस्की  

पोलैंड के जयन्ती समारोह में कार्डिनल क्रजेवस्की पोप के विशेष दूत

संत पापा फ्रांसिस ने पोलैंड के एओडज महाधर्मप्रांत की शतवर्षीय जयन्ती समारोह मनाने हेतु पोप के अनुदान विभाग के अध्यक्ष कार्डिनल कॉनराड क्रजेवस्की को अपना विशेष दूत नियुक्त किया। शतवर्षीय जयन्ती 12 दिसम्बर 2020 को मनाया जाएगा।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 5 दिसम्बर 2020 (रेई)- संत पापा फ्राँसिस ने 5 दिसम्बर को कार्डिनल क्राजेवस्की को एक पत्र भेजकर इस नियुक्ति की घोषणा की।

कार्डिनल क्रजेवस्की के साथ एओडज महागिरजाघर के ससम्मान सेवानिवृत पल्ली पुरोहित मोनसिन्योर बोडगन नोवास्की और एओडज महाधर्मप्रांत में सेमिनरी के छात्रों एवं वहाँ की धर्मबहनों के आध्यात्मिक संचालक तथा महागिरजाघर के पल्ली पुरोहित मोनसिन्योर जोसेफ जानिएक भी समारोह में भाग लेंगे।

एओडज धर्मप्रांत की स्थापना 10 दिसम्बर 1920 को हुई थी, जो 25 मार्च 1992 को महाधर्मप्रांत बना। महाधर्मप्रांत का क्षेत्रफल 5,200 वर्ग किलोमीटर है। 2018 की जनगणना के अनुसार महाधर्मप्रांत में काथलिक विश्वासियों की संख्या 1,330,000 है जो कुल आबादी का 94.3 प्रतिशत है। यहाँ पल्लियों की संख्या- 219 हैं, 723 पुरोहित, 654 लोकधर्मी समर्पित और 42 गुरूकुल छात्र हैं।

संत पापा ने कार्डिनल क्राजेवस्की को पत्र में लिखा कि इस अवसर पर आप उन्हें प्रोत्साहित करें, कि वे विश्वास से उत्पन्न आशा की शक्ति द्वारा प्रेरितिक मिशन की प्रतिबद्धता में नवीकृत हो सकें; ईश्वर के प्रेम एवं यूखरिस्त की भक्ति से प्रज्वलित, उदारता के जीवन में सक्रिय सहभागी हो पायें ताकि ईश्वर की दया हेतु सम्पूर्ण महिमा उन्हीं को सदा प्राप्त हो।

05 December 2020, 13:23