Vatican News
आम दर्शन समारोह में संत पापा युवाओ के साथ आम दर्शन समारोह में संत पापा युवाओ के साथ  (ANSA)

ईश्वर हमारा हृदय परिवर्तन करे, संत पापा

संत पापा फ्राँसिस ने रविवार को दो ट्वीट कर सभी विश्वासियों को जीवन की चुनौतियों का सामना साहस के साथ करते हुए अपने को ईश्वर के मजबूत हाथों में सुपुर्द करने को कहा और युवाओं को संत अलोसियुस गोंजागा की मध्यस्ता से हृदय परिवर्तन हेतु प्रार्थना करने का आह्वान किया। सोमवार के ट्वीट में संत पापा ने सभी विश्वासियों से बाइबल वचन के अनुसार जीवन जीने हेतु प्रेरित किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 22 जून 2020 (वाटिकन न्यूज) : रविवार 21 जून को काथलिक कलीसिया, काथलिक पंचाग अनुसार संत अलोसियुस गोंजागा का त्योहार मनाती है। संत अलोसियुस युवाओं के संरक्षक संत हैं वे येसु समाज धर्मबंधु के रुप में रोम में आये और प्लेग महामारी के दौरान बीमारों की सेवा करते खुद भी प्लेग के शिकार हो गये। संत पापा फ्राँसिस ने रविवार को संत अलोसियुस के पर्व दिवस पर ट्वीट कर युवाओं को अपने रक्षक संत से नये हृदय के लिए ईश्वर से प्रार्थना करने हेतु प्रेरित किया।

21 जून का पहला ट्वीट

संदेश में उन्होंने लिखा, ʺप्यारे नौजवानों,  आप अपने संरक्षक संत अलोसियुस गोंजागा की मध्यस्ता से एक नए दिल हेतु कृपा मांगें। साहसी युवा संत अलोसियुस गोंजागा जो दूसरों की सेवा करने से कभी पीछे नहीं हटे, प्लेग पीड़ितों की देखभाल करते हुए अपना जीवन दे दिया। प्रभु हमारे हृदय को बदल दें!ʺ

दूसरा ट्वीट

संत पापा फ्राँसिस ने रविवारीय पूजन विधि के लिए चुने गये संत मत्ती के सुसमाचार पाठ के आधार पर सभी विश्वासियों को ईश्वर के मजबूत हाथों में अपने को सुपुर्द करने हेतु प्रेरित किया।

संदेश में उन्होंने लिखा, ʺइस रविवार के सुसमाचार (मत्ती10:26-33) में येसु ने हमें भयभीत न होने, जीवन की चुनौतियों का मजबूती के साथ सामना करने और आश्वस्त होने के लिए आमंत्रित किया है, क्योंकि जब हम असफलताओं का सामना करते हैं, तो हमारा जीवन ईश्वर के हाथों में दृढ़ता से रहता है, जो हमसे प्यार करते हैं और हमारी देखभाल करते हैं।ʺ

22 जून का ट्वीट

सत पापा फ्राँसिस ने ख्रीस्तियों के जीवन में ईश वचन के महत्व पर गौर करते हुए ट्वीट संदेश में लिखा,ʺईश्वर का वचन हमें जीवन वचन के रूप में दिया गया है, जो हममें परिवर्तन लाता और हमारा नवीनीकरण करता है और दूसरों की निंदा करने को न्यायपूर्ण नहीं मानता, लेकिन हमें चंगा करता है और हमें क्षमा करता है। ईश वचन हमारे कदमों के लिए प्रकाश है!ʺ

22 June 2020, 14:52