खोज

Vatican News
धन्य कार्लो डी फ़ौकुल (येसु के चार्ल्स), धर्मप्रांतीय पुरोहित  धन्य कार्लो डी फ़ौकुल (येसु के चार्ल्स), धर्मप्रांतीय पुरोहित  

कलीसिया में तीन नये संतों एवं दस धन्यों की घोषणा

संत पापा फ्राँसिस ने मंगलवार 26 मई को कार्डिनल अन्जेलो बेच्चू के नेतृत्व में परमधर्मपीठीय सन्त प्रकरण परिषद द्वारा सन्त एवं धन्य घोषणा के लिये प्रस्तावित आज्ञप्तियों को अनुमोदन दे दिया है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 27 मई 2020 (रेई) :  संत पापा फ्राँसिस ने मंगलवार 26 मई को कार्डिनल अन्जेलो बेच्चू के नेतृत्व में परमधर्मपीठीय सन्त प्रकरण परिषद द्वारा सन्त, धन्य एवं प्रभु सेवक की घोषणा के लिये प्रस्तावित आज्ञप्तियों को अनुमोदन दे दिया है।

संत और धन्य घोषित किये जाने वालों के नाम इस प्रकार हैं-

संत घोषणाः

धन्य पुरोहित सीजर दे बुस, फादर्स ऑफ क्रिस्टियन डॉक्ट्रिन धर्मसंघ के संस्थापक।  इनका जन्म 3 फरवरी, 1544 को काविलॉन (फ्रांस) में हुआ था और 15 अप्रैल, 1607 को एविग्नन (फ्रांस) में निधन हुआ।

धन्य कार्लो डी फ़ौकुल (येसु के चार्ल्स), धर्मप्रांतीय पुरोहित।  इनका जन्म 15 सितंबर, 1858 को स्ट्रासबर्ग (फ्रांस) में और 1 दिसंबर, 1916 को तमनरासेट (अल्जीरिया) में निधन हुआ।

धन्य मारिया डोमिनिका मेंटोवानी, पवित्र परिवार की छोटी बहनों के धर्मसमाज की सह-संस्थापिका और पहली सुपीरियर जनरल। इनका जन्म 12 नवंबर, 1862 को कास्तेलेत्तो दी ब्रेनज़ोने (इटली) में हुआ था और 2 फरवरी, 1934 को निधन हुआ।

धन्य घोषणाः

प्रभु सेवक मिखाएल माइकजिवनी धर्मप्रांतीय पुरोहित, नाइटस ऑफ कोलम्बस धर्मसंघ के संस्थापक। इनका जन्म 12 अगस्त, 1852 को वाटरबरी (संयुक्त राज्य अमेरिका) में हुआ और 14 अगस्त, 1890 को थॉमास्टन (संयुक्त राज्य अमेरिका) में निधन हो गया।

प्रभु सेविका पौलिन मारिया जरिकॉट, "द काउंसिल ऑफ द प्रोपगेशन ऑफ द फेथ" एन्ड "लिविंग रोज़री" धर्मसंघ की संस्थापिका। इनका जन्म 22 जुलाई, 1799 को ल्योन (फ्रांस) में हुआ था और 9 जनवरी, 1862 को उनकी मृत्यु हुई।

प्रभु सेवक शहीद सिमोन कार्डन और उनके पांच शहीद साथी। कासामरी के सिस्टरियन धर्मसमाज के सदस्य जो अपने विश्वास के कारण 1799 में 13 और 16 मई के बीच कासामारी में मार डाले गए।

प्रभु सेवक शहीद कॉस्मा स्पेस्सोत्तो, फ्रायर्स माइनर धर्मसंध के पुरोहित। इनका 28 जनवरी, 1923 को मानसूए (इटली) में हआ था और सान जुआन नॉनवेल्को (एल सल्वाडोर) में 14 जून, 1980 को अपने विश्वास के कारण मारे गए।

प्रभु सेवक मेल्शियोरे मारिया डी मैरियन ब्रिसिलैक, प्रूसा के धर्माध्यक्ष, कोयम्बटूर के पूर्व प्रेरितिक विकार और सोसाइटी ऑफ अफ्रीकन मिशन्स के संस्थापक। इनका जन्म 2 दिसंबर, 1813 को कास्टेलनाउदरी (फ्रांस) में हुआ था और 25 जून, 1859 को फ्रीटाउन (सिएरा लियोन) में मृत्यु हो गई।

27 May 2020, 16:45