खोज

Vatican News
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर 

गरीबों, कैदियों और अधिकारियों के लिए प्रार्थना करें, संत पापा

अपनी प्रार्थना में संत पापा फ्राँसिस ने उन कैदियों को याद किया जो अनेक जेलों में भीड़भाड़ की गंभीर समस्या का सामना कर रहे हैं जेल अधिकारी इन समस्याओं का समाधान कर पायें।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 6 अप्रैल 2020 ( रेई) : सोमवार 6 अप्रैल को संत पापा फ्राँसिस ने तीन ट्वीट प्रेषित कर सभी लोगों से गरीबों, कैदियों, जेल अधिकारियों के लिए प्रार्थना करने और जीवन को गंभीरता से लेने हेतु प्रेरित किया।  

1 ट्वीट

पहले ट्वीट में संत पापा ने अनेक जेलों में भीड़भाड़ की गंभीर समस्या का सामना कर रहे कैदियों और जेल अधिकारियों के लिए प्रार्थना करने हेतु सभी लोगों को आमंत्रित किया।

ट्वीट संदेश में उन्होंने लिखा, ʺजिन जेलों में भीड़भाड़ है, वहाँ इस महामारी के फैलने का एक गंभीर खतरा है। आइए, हम एक साथ उन जिम्मेदार लोगों के लिए प्रार्थना करें, जो इस समस्या को हल करने के लिए एक सही निर्णय और रचनात्मक तरीका खोज सकें।ʺ

2 ट्वीट

संत पापा ने आज के लिए निर्धारित संत योहन के सुसमाचार 12: 1-11 पाठ पर चिंतन कर ट्वीट किया।

संदेश में उन्होंने लिखा,  ʺहम सभी का गरीबों के साथ अपने संबंधों के अनुसार ही हमारा न्याय किया जाएगा। जब येसु कहते हैं कि गरीब तो हमेशा तुम्हारे साथ होंगे। इसका अर्थ है: "मैं हमेशा गरीबों में तुम्हारे साथ रहूंगा। मैं वहां उपस्थित रहूंगा। यह सुसमाचार का केंद्र है: हमें इसी के द्वारा आंका जाएगा।”

3 ट्वीट

संत पापा ने जीवन को गंभीरता से लेने हेतु प्रेरित करते हुए तीसरा ट्वीट किया

संदेश में संत पापा ने लिखा, ʺहम जिस त्रासदी का सामना कर रहे हैं, वह हमें उन चीजों को गंभीरता से लेने हेतु आह्वान कर रही है जो महत्वपूर्ण है और उन मामलों में नहीं पड़ें जो जीवन में कम मायने रखते हैं।  यदि इस जीवन द्वारा दूसरों की सेवा नहीं की जाती है तो जीवन का कोई फायदा नहीं है, क्योंकि जीवन प्यार से ही मापा जाता है।ʺ

06 April 2020, 15:39