खोज

Vatican News
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर  (AFP or licensors)

पोप फ्राँसिस : मलेरिया के साथ संघर्ष करना जारी रखें

स्वर्ग की रानी प्रार्थना के उपरांत संत पापा ने विश्वासियों को सम्बोधित किया। उन्होंने मलेरिया के खिलाफ विश्व दिवस की याद दिलाई तथा धर्मग्रंथ का पाठ करने एवं रोजरी माला विन्ती करने का आह्वान किया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

स्वर्ग की रानी प्रार्थना के उपरांत संत पापा ने विश्वासियों को सम्बोधित किया। उन्होंने मलेरिया के खिलाफ विश्व दिवस की याद दिलाते हुए कहा, "कल संयुक्त राष्ट्र का मलेरिया के खिलाफ विश्व दिवस था। जब हम कोरोना वायरस महामारी से संघर्ष कर रहे हैं, तब हमें मलेरिया के निराकरण एवं चिकित्सा के प्रयास को भी जारी रखना चाहिए जो कई देशों में अरबों लोगों को भयभीत करता है।" उन्होंने कहा कि मैं सभी बीमार लोगों एवं उनकी देखभाल करने वालों के करीब हूँ साथ ही, उन लोगों के करीब भी, जो बेहतर मौलिक स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के लिए कार्य करते हैं।

पवित्र धर्मग्रंथ पाठ

संत पापा ने पोलैंड के विश्वासियों का अभिवादन करते हुए कहा, "मैं उन सभी लोगों का भी अभिवादन करता हूँ जो आज पोलैंड में "राष्ट्रीय पवित्र धर्मग्रंथ पाठ" में भाग ले रहे हैं। मैंने कई बार कहा है और इसे पुनः दोहराना चाहता हूँ कि हर दिन, कुछ समय के लिए सुसमाचार को पढ़ने की आदत बनाना महत्वपूर्ण है। उन्होंने सुसमाचार का पाठ करने का प्रोत्साहन देते हुए कहा, "आइये हम इसे अपने पॉकेट या बैग में रखें, ताकि यह हमेशा हमारे साथ रहे और हम हर दिन छोटे अंश का पाठ कर सकें।"  

रोजरी माला विन्ती

इसके बाद संत पापा ने मई महीने की याद दिलाते हुए रोजरी माला विन्ती करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा, "कुछ ही दिनों बाद, मई का महीना आ जायेगा जो विशेष रूप से माता मरियम के लिए समर्पित है। कल मैंने एक छोटा पत्र प्रकाशित कर सभी विश्वासियों को निमंत्रण दिया है कि इस माह में पवित्र रोजरी विन्ती करें, अपने परिवार में एक साथ अथवा अकेले करें तथा उन दो प्रार्थनाओं, जिनको मैंने दिया है, उनमें से किसी एक का पाठ करें। हमारी माता हमें इस कठिन समय का सामना, अधिक विश्वास एवं आशा के साथ करने में सहायता प्रदान करे।"

अंत में, संत पापा ने सभी को मई महीना एवं शुभ रविवार की मंगलकामनाएँ अर्पित की तथा अपने लिए प्रार्थना का आग्रह करते हुए विश्वासियों से विदा ली।

27 April 2020, 14:20