खोज

Vatican News
जोर्दान के स्वास्थ्य कर्मी जोर्दान के स्वास्थ्य कर्मी  (ANSA)

कोरोना महामारी के भय से उबरने हेतु प्रार्थना

संत पापा फ्राँसिस ने ट्वीट प्रेषित कर कोरोना वायरस का सामना करने हेतु सभी को एकजुट होने की प्रेरणा दी। जहाँ मृत्यु है, ईश्वर का वचन जीवन को पुनःस्थापित करता है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 30 मार्च 2020 (रेई) : संत पापा ने 30 मार्च के ट्वीट में लिखा, "हम उन सभी लोगों के लिए प्रार्थना करें जो कोरोना वायरस की महामारी का सामना नहीं कर पा रहे हैं और भय में जी रहे हैं। प्रभु उन्हें पूरे समुदाय की भलाई के लिए सामर्थ्य रखने में मदद करें।"

संत पापा फ्राँसिस ने रविवार 29 मार्च को चार ट्वीट किया।

संत पापा ने रवीवारीय मिस्सा समारोह के लिए निर्धारित संत योहन के सुसमाचार 11: 1-45 (लाजरुस को जीवन-दान) पर मनन चिंतन कर चार ट्वीट किया

1 ट्वीट

संत पापा ने पहले ट्वीट में रोने वालों की याद करते हुए उनका साथ देने को कहा, ʺमैं बहुत से लोगों के बारे में सोच रहा हूँ जो रो रहे हैं। हम भी दिल से उनका साथ दें। उनके साथ रोना, हमें नुकसान नहीं करेगा, हमारे प्रभु ने भी अपने लोगों के लिए रोया था।ʺ

2 ट्वीट

येसु की तरह अपनों के दुःख में रोने की कृपा मांगने हेतु प्रेरित करते हुए दूसरे ट्वीट में लिखा,ʺलाजरुस की मृत्यु पर येसु व्याकुल हो रो पड़े (योहन 11.35) हम उन सभी लोगों के लिए प्रभु से रोने की कृपा मांगें जो इस महामारी के कारण दुःख सह रहे हैं। आज का रविवार सबके लिए, आंसुओं का रविवार हो।ʺ

3 ट्वीट

तीसरे ट्वीट में संत पापा ने लिखा, ʺआज के सुसमाचार (योहन 11: 1-45) में, येसु हमसे कहते हैं, "मैं पुनरुत्थान और जीवन हूँ ... विश्वास करो। दु:ख के समय भी अपने विश्वास को बनाये रखो। जब भी लगता है कि मौत जीत गई है, परंतु जहाँ मृत्यु है ईश्वर का वचन जीवन को पुनःस्थापित करता है।”

4 ट्वीट

चौथे ट्वीट में संत पापा ने महामारी के खिलाफ एक साथ लड़ने की प्रेरणा देते हुए संदेश में लिखा, ʺहम सभी एक मानव परिवार के सदस्य हैं। आइए, हम सभी शत्रुता को छोड़ दें। कोविद-19 महामारी के खिलाफ हमारी संयुक्त लड़ाई एक मानव परिवार के सदस्यों के रूप में भाई और बहन के बंधन को मजबूत करने की वृहृद आवश्यकता हमें एक साथ लाये।"

30 March 2020, 17:04