खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस  (Vatican Media)

संत पापा द्वारा कोरोना पीड़ितों के लिए प्रार्थना का नवीनीकरण

संत पापा फ्रांसिस हमें खुद को मसीह और युखारिस्त के आध्यात्मिक भोज में एक-दूसरे को एकजुट करने के लिए आमंत्रित करते हैं, क्योंकि देशों की सरकारें नागरिकों को कोविद -19 के प्रसार से लड़ने के लिए घर पर रहने के लिए प्रोत्साहित कर रही हैं।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 16 मार्च 2020 (वाटिकन न्यूज) : "महामारी की इस स्थिति में, जिसमें हम अपने आप को कम या ज्यादा अलग-थलग पाते हैं, हम कलीसिया के सभी सदस्यों को एकजुट करने वाले सामुदायिक मूल्यों को फिर से खोजने और गहरा करने के लिए आमंत्रित किये जाते हैं।" ये बातें संत पापा फ्राँसिस ने रविवार को देवदूत प्रार्थना के बाद अपनी टिप्पणी में कही।

मसीह में संयुक्त   

कोविद -19 कोरोना वायरस दुनिया भर में फैलने की वजह से विश्व आपात स्थितियों की घोषणा की गई। इस हफ़्ते अनेक हवाई यात्रा को स्थगित किया गया। अनेक देशों ने अपनी सीमा को बंद कर दिया है।

संत पापा ने याद दिलाया कि हम "मसीह में संयुक्त हैं, हम कभी अकेले नहीं हैं, वो हमारा सिर है और हमसभी एक ही शरीर का अंग बनाते हैं।"

संत पापा फ्राँसिस ने कहा कि जब पवित्र युखरिस्त संस्कार ग्रहण करना संभव नहीं है वहाँ प्रार्थना और युखरिस्त के आध्यात्मिक भोज द्वारा पोषित होने की जरुरत है। विशेषकर जो लोग अकेले रहते हैं।

इतना कहने के बाद संत पापा फ्राँसिस ने बीमार लोगों और उनकी देखभाल करने वाले सभी चिकित्सा कर्मियों के लिए अपनी निकटता को नवीनीकृत किया। उन्होंने कई स्वयंसेवकों का भी उल्लेख किया जो बुजुर्गों, गरीबों और बेघरों की मदद कर रहे हैं।

संत पापा ने कहा, "इस कठिन क्षण में मदद करने के लिए आप सभी के प्रयासों के लिए धन्यवाद।" "प्रभु आपको आशीर्वाद दे। माता मरिया आपको अपने संरक्षण में रखे और कृपया मेरे लिए प्रार्थना करना न भूलें।"

पुरोहितों के प्रति आभार

देवदूत प्रार्थना के पहले संत पापा ने कोरोना वायरस को रोकने के लिए लगाए गए उपायों से निपटने के लिए दुनिया भर के पुरोहितों को उनकी "रचनात्मकता" के लिए धन्यवाद दिया।

 इटली में गिरजाघर निजी प्रार्थना के लिए विश्वासियों के लिए खुले हैं, लेकिन पवित्र मिस्सा विश्वासियों की उपस्थिति के बिना आयोजित की जा सकती है।

16 March 2020, 14:24