खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस 

मानव बंधुत्व के दस्तावेज की पहली सालगिराह, पोप का संदेश

संत पापा फ्राँसिस ने मानव बंधुत्व के दस्तावेज पर हस्ताक्षर किये जाने की पहली सालगिराह पर, अबू धाबी में एकत्रित उच्च समिति के सदस्यों को सम्बोधित कर, 4 फरवरी को प्रकाशित एक वीडियो संदेश में मानव बंधुत्व के नाम पर, गरीब, बीमार, अत्याचार से पीड़ित और कमजोर भाई-बहनों की सेवा करने के लिए अपनी कृतज्ञता व्यक्ति की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 4 फरवरी 2020 (रेई)˸ संत पापा ने कहा, "मैं उपस्थित सभी लोगों का अभिवादन करता हूँ और विशेषकर, मैं उन लोगों का अभिवादन करता हूँ जो मानवता के नाम पर, अपने गरीब, बीमार, अत्याचार से पीड़ित और कमजोर भाई-बहनों की सेवा, उनके धर्म, रंग और जाति पर ध्यान दिये बिना करते हैं।"

एक वर्ष पहले संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी में, अल अजहर के ग्रैंड ईमाम अहमद एल ताय्यिब और संत पापा फ्राँसिस ने मानव बंधुत्व के दस्तावेज पर हस्ताक्षर किये थे।

उन्होंने कहा, "आज हम इस महान मानवीय घटना की पहली वर्षगाँठ मना रहे हैं," और "मानवता के लिए बेहतर भविष्य की आशा करते हैं जो घृणा, शत्रुता, अतिवाद और आतंकवाद से मुक्त हो, जहाँ शांति, प्रेम, और भाईचारा को महत्व दिया जाए।"

संत पापा ने संदेश में मानव बंधुत्व के दस्तावेज के लिए गठित उच्च समिति के कार्यों को समर्थन देने हेतु संयुक्त अरब अमीरात को धन्यवाद दिया। उन्होंने अब्राहमिक परिवार द्वारा मानव बंधुत्व पर पुरस्कार की घोषणा करने के पहल के लिए भी कृतज्ञता व्यक्ति की।

उन्होंने कहा, "मैं खुश हूँ कि मानव बंधुत्व के अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार की दुनिया में इसे प्रस्तुत किये जाने के अवसर में शामिल हो पाऊँगा, ताकि हर तरह के आदर्श स्त्री एवं पुरूष जो इस संसार में दूसरों की भलाई के लिए अपने कार्यों एवं त्याग के द्वारा प्रेम प्रकट करते हैं, उन्हें प्रोत्साहन मिले, चाहे वे धर्म, जाति और संस्कृति के आधार पर कितने ही भिन्न क्यों न हों।"

संत पापा ने सर्वशक्तिमान ईश्वर से प्रार्थना की कि मानवता की भलाई के लिए प्रयासरत सभी के प्रयासों को आशीष मिले तथा सभी को भाईचारा की ओर आगे बढ़ने में मदद प्राप्त हो।    

 

04 February 2020, 18:03