खोज

Vatican News
चीन-स्वास्थ्य वायरस-समारोह चीन-स्वास्थ्य वायरस-समारोह  (AFP or licensors)

संतुष्टि अपने को खोने में

हम अपने में संतुष्ट नहीं हो सकते हैं।

दिलीप संजय एक्का-वाटिकन सिटी

मानव स्वभाव के अनुरूप हमारी चाह अपने में सभी बातों में पूर्णतः प्राप्त करने की होती है। हम अपनी ओर से हर कोशिश करते हैं कि हम अधिक से अधिक बातों और चीजों को अपने जीवन में सीखें जिससे हम आत्मनिर्भर बन सकें। लेकिन हमारी पूर्णतः अपने में तब तक खाली ही रहती है जब तक हम अपने आप से बाहर नहीं निकलते और दूसरों को अपने जीवन में जगह नहीं देते हैं।   

संत पापा ने सोमवार के अपने ट्वीट संदेश में लिखा, “हम अकेले अपने में संतुष्ट नहीं हो सकते हैं। हमें अपनी आत्मनिर्भरता को बेपर्दा करने की जरूरत है, अपने में बंद होने के मनोभावों पर विजय होने, अपने आप में छोटे होने की अनुभूति की थाह लेने, अपने में सरल और उत्साही बनने की आवश्यकता है, जिससे हम अपने को ईश्वरीय कृपा और दूसरों के लिए प्रेम से भर सकें”। 

17 February 2020, 16:18