खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस बालक येसु का चुम्मन करते हुए संत पापा फ्राँसिस बालक येसु का चुम्मन करते हुए  (ANSA)

ख्रीस्त जन्म पर्व पर संत पापा ट्वीट संदेश

संत पापा फ्राँसिस ने ख्रीस्त जन्म पर्व की जागरण रात को ट्वीट कर सभी विश्वासियों को बालक येसु के रुप में शास्वत ईश्वर के प्रेम को अनुभव करने और बालक येसु की तरह दूसरों के लिए उपहार बनने का आह्वान किया।

माग्रेट सुनीता मिंज- वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 25 दिसम्बर 2019 (रेई) :  विश्व व्यापी कलीसिया के परमधर्म गुरु संत पापा फ्राँसिस ने ख्रीस्त जन्म पर्व की जागरण रात को ट्वीट कर सभी विश्वासियों को बालक येसु का स्वागत करने हेतु प्रेरित किया।

24 दिसम्बर का ट्वीट संदेश

पहले द्वीट में उनहोंने लिखा, “आज रात ईश्वर का प्रेम हमारे सामने प्रकट हुआ है। सर्व शक्तिमान ईश्वर ने येसु में स्वयं को छोटा बनाया, ताकि हम उससे प्रेम कर सकें। येसु में, ईश्वर ने स्वयं को एक बालक बनाया, ताकि हम उसे अपना सकें।

दूसरे ट्वीट में संत पापा ने लिखा, “आज रात, ईश्वर के प्यार की सुंदरता में, हम भी अपनी सुंदरता को पाते हैं, क्योंकि हम ईश्वर के प्यारे हैं। उसकी आँखों में हम सुंदर हैं: हम जो करते हैं उसके लिए नहीं, बल्कि हम जो हैं उसके लिए।”

तीसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा, “प्रिय भाई, प्रिय बहन, अगर आपके हाथ खाली लग रहे हैं, अगर आपको लगता है कि आपका दिल में प्यार की कमी है, तो यह रात आपके लिए है। ईश्वरीय कृपा की रोशनी आपके जीवन को प्यार से भर देगी। इसे स्वीकार करें और क्रिसमस की रोशनी में आप भी चमक पड़ेंगे।”

खीस्त जन्म पर्व 25 दिसम्बर का ट्वीट

25 दिसम्बर को संत पापा ने ट्वीट किया, “आज का दिन  गिरजाघर के संदूक गौशाले के पास जाकर धन्यवाद कहने के लिए पास का सही दिन है। आइए हम उस उपहार को प्राप्त करें जो येसु हैं, ताकि येसु की तरह हम भी उपहार बन सके। उपहार बनना, जीवन को अर्थ देता है।”

दूसरे द्वीट में संत पापा ने रोम वासियों और पूरे विश्व विश्वासियों को दिये गये संदेश (उरबी एत ओरबी) को सुनने के लिए कहा।

संत पापा ने लिखा, “उरबी एत ओरबी को सुनें।”

तीसरे ट्वीट में संत पापा ने लिखा, “इम्मानुएल हमारे मानव परिवार के सभी पीड़ित सदस्यों के लिए ज्योति लाएं। वे हमारे आत्म-केंद्रित और पत्थर दिलों को नरम बनायें और हमें अपने प्यार के माध्यम बनायें। इस खुशी के दिन, वे अपनी कोमलता को सभी के सामने प्रकट करें और इस दुनिया के अंधेरे को रोशन कर दें।”  

25 December 2019, 12:02