खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पॉल छठे सभागार में भोजन करते हुए संत पापा फ्राँसिस संत पॉल छठे सभागार में भोजन करते हुए  (ANSA)

संत पापा फ्राँसिस ने किया गरीबों के साथ दोपहर का भोजन

गरीबों के तीसरे विश्व दिवस को मनाते हुए, संत पापा फ्राँसिस रविवार को करीब 1.500 गरीब लोगों और स्वयंसेवकों के साथ दोपहर का भोजन किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 18 नवम्बर 2019 (वाटिकन न्यूज) :  गरीबों के विश्व दिवस की स्थापना के तीसरे वर्ष भी रविवार 17 नवम्बर को संत पापा फ्राँसिस ने वाटिकन के संत पापा पॉल छठे सभागार में गरीब लोगों और स्वयंसेवकों के साथ दोपहर का भोजन किया। तीन साल पहले करुणा की असाधारण जयंती के अंत को चिन्हित करते हुए गरीबों के विश्व दिवस की स्थापना की थी।

रविवार को संत पेत्रुस महागिरजाघर में संत पापा फ्राँसिस ने गरीबों के लिए विशेष रुप से मिस्सा बलिदान का अनुष्ठान किया। अपने प्रवचन में संत पापा ने गरीबों को ‘कलीसिया का खजाना’ बताया और विश्वासियों से कहा कि "गरीब स्वर्ग तक हमारी पहुँच को आसान बनाते हैं।" संत पापा फ्राँसिस ने संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्राँगण में एकत्रित तीर्थयात्रियों और विश्वासियों के साथ देवदूत प्रार्थना का पाठ करने के उपरांत गरीबों के प्रति समाज की दर्दनाक उदासीनता के बारे में लोगों का ध्यान केंद्रित किया।

इसके बाद उन्होंने लगभग 1,500 गरीब लोगों और करीब 50 स्वयंसेवकों के साथ दोपहर का भोजन किया। सुन्दर सजे हॉल में दोपहर के भोजन के लिए लासान्या, मशरूम और आलू के साथ चिकन, मिठाई, फल और एस्प्रेसो कॉफ़ी परोसा गया।

भोजन परोसने से पहले संत पापा ने वहाँ उपस्थित सभी लोगों का स्वागत किया और भोजन पर, उनपर एवं उनके परिवारों पर ईश्वर की आशीष हेतु प्रार्थना की। संत पापा ने भोजन तैयार करने वालों को भी धन्यवाद दिया।

18 November 2019, 16:35