खोज

Vatican News
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर  (AFP or licensors)

ख्रीस्तीय आशा, ख्रीस्त की ज्योति से पोषित

निराशा सबकुछ अंधकारमय कर देती है वहीं आशा हिम्मत बनाये रखती है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 7 नवम्बर 2019 (रेई)˸ निराशा सबकुछ अंधकारमय कर देती है, भविष्य का रास्ता बंद कर देती तथा जीवन को बेकार समझने के लिए मजबूर कर देता है जबकि आशा बनाये रखने वाला व्यक्ति कभी हिम्मत नहीं हारता है।

संत पापा फ्रांसिस ने 7 नवम्बर के ट्वीट संदेश में ख्रीस्तीय आशा के बारे बतलाते हुए कहा, "ख्रीस्तीय आशा, ख्रीस्त की ज्योति से पोषित, पुनरूत्थान लाती तथा जीवन को दुनिया के सबसे अंधकारमय रात में भी चमकाती है।"

07 November 2019, 16:23