खोज

Vatican News
संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्राँगण में देवदूत प्रार्थना के लिए उपस्थित विश्वासी संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्राँगण में देवदूत प्रार्थना के लिए उपस्थित विश्वासी  (Vatican Media)

आगामी प्रेरितिक यात्रा की सफलता हेतु प्रार्थना करें, संत पापा

देवदूत प्रार्थना के उपरांत संत पापा ने विभिन्न घटनाओं की याद की तथा अपनी प्रेरितिक यात्रा की सफलता हेतु प्रार्थना की मांग की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

संत पापा ने जेस्विट पुरोहित इमिलियो मोस्कोसो की धन्य घोषणा की याद करते हुए कहा, "कल इक्वाडोर के रिओबम्बा में धन्य फादर इमिलियो मोस्कोसो की धन्य घोषणा हुई जो येसु समाज के शहीद हैं जिन्हें सन् 1897 में काथलिक कलीसिया में अत्याचार के दौरान मार डाला गया था। एक विनम्र धर्मसमाजी, प्रार्थना के प्रेरित एवं युवाओं के प्रशिक्षक का उदाहरण, हमारी विश्वास की यात्रा एवं ख्रीस्तीय साक्ष्य को बल प्रदान करे।" संत पापा ने ताली बजाकर उन्हें सम्मानित किया।

गरीबों को आशा प्रदान करने वालों की सराहना

तत्पश्चात् संत पापा ने गरीबों के लिए विश्व दिवस की याद दिलाते हुए कहा, "आज हम गरीबों के लिए विश्व दिवस मना रहे हैं जिसकी विषयवस्तु है, "दरिद्र को सदा के लिए नहीं भुलाया जायेगा और दीन-दुःखियों की आशा व्यर्थ नहीं होगी।" (स्तोत्र 9,19) मैं उन लोगों के प्रति आभारी हूँ जिन्होंने विश्वभर के पल्लियों एवं धर्मप्रांतों में, सबसे वंचित लोगों के लिए ठोस आशा प्रदान करने हेतु एकात्मता के प्रयासों को बढ़ावा दिया है।

संत पापा ने संत पेत्रुस प्रांगण के मेडिकल केंद्र में सेवा देने वाले सभी चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कर्मियों को धन्यवाद दिया। उन्होंने सभी लोगों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करते हुए कहा, "मैं पीड़ितों और जरूरतमंद लोगों के हित में सभी प्रयासों के लिए धन्यवाद देता हूँ हमारे भाई-बहनों के प्रति इस तरह के साक्ष्य कभी कम न हों।" संत पापा ने विश्व में गरीबों के आंकड़ों पर खेद प्रकट करते हुए उनके लिए मौन प्रार्थना का आह्वान किया।

विश्वासियों का अभिवादन एवं प्रार्थना की मांग

उसके बाद संत पापा ने सभी तीर्थयात्रियों का अभिवादन किया जो इटली तथा विभिन्न देशों से आये थे विशेषकर, संत पापा ने रोम में इक्वाडोर के समुदाय का अभिवादन किया जो क्वींके की कुँवारी मरियम का पर्व मना रहे थे। उन्होंने न्यूजर्सी के विश्वासियों एवं तोलेदो, स्पेन, विभिन्न देशों की ख्रीस्तियों की सहायिका की पुत्रियों और विश्व में मरियम के तीर्थस्थल के इताली संगठन के सदस्यों का अभिवादन किया।

अंत में संत पापा ने थाईलैंड एवं जापान की प्रेरितिक यात्रा की सफलता हेतु प्रार्थना का आग्रह करते हुए उन्होंने सभी को शुभ रविवार की मंगलकामनाएँ अर्पित की।  

18 November 2019, 14:58