खोज

Vatican News
वाटिकन में दक्षिण सूडान के राजनीतिक नेताओं के साथ संत पापा फ्राँसिस वाटिकन में दक्षिण सूडान के राजनीतिक नेताओं के साथ संत पापा फ्राँसिस 

दक्षिण सूडान में सुलह हेतु संत पापा द्वारा प्रार्थना की अपील

रविवार को संत पापा फ्राँसिस ने संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण में दक्षिण सूडान में शांति और सुलह के लिए ‘प्रणाम मरिया’ प्रार्थना की अगुवाई की। दक्षिण सूडान के राजनीतिक नेता पिछले साल शांति समझौते के बाद गठबंधन सरकार बनाने की कोशिश कर रहे हैं।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार,11 नवम्बर 2019 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस ने रविवार 9 नवम्बर को संत पेतुस महागिरजाघर के प्रांगण में वहाँ उपस्थित भक्त समुदाय और तीर्थ यात्रियों के साथ देवदूत प्रार्थना का पाठ किया। इसके पश्चात उन्होंने कहा, "मैं दक्षिण सूडान के प्रिय लोगों को याद करता हूँ, जहाँ मैं अगले वर्ष दौरा करने की सोच रहा हूँ। दक्षिण सूडान के लोगों ने हाल के वर्षों में बहुत अधिक कष्ट झेला है और बड़ी आशा के साथ एक बेहतर भविष्य की, विशेषकर संघर्षों के अंत और स्थायी शांति का प्रतीक्षा कर रहे हैं।"

प्रार्थना की अपील

उन्होंने कहा, "मैं इस देश के लिए एक साथ प्रार्थना करने हेतु आप सभी को आमंत्रित करता हूँ, उनके प्रति मेरा एक विशेष लगाव व स्नेह है।" इतना कहने के बाद संत पापा ने सभी विश्वासियों के साथ ‘प्रणाम मरिया’ प्रार्थना का पाठ किया।

दक्षिण सूडान के नेताओं द्वारा सितंबर 2018 में शांति समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद, राष्ट्रपति सलवा कीर मयार्दित और विपक्ष के नेता रीच मचार, देश में गठबंधन सरकार बनाने की कोशिश कर रहे हैं।

गठबंधन सरकार का गठन 12 नवंबर तक होना था, लेकिन प्रमुख मुद्दों पर जारी असहमति के कारण 100 दिन औप आगे बढ़ाने के लिए मंजूरी 8 नवंबर को दे दी गई।

देश के काथलिक धर्माध्यक्षों ने दक्षिण सूडान में इस शांति समझौते को "मोटे तौर पर त्रुटिपूर्ण" कहा है, क्योंकि यह संघर्ष के मूल कारणों को संबोधित नहीं करता है। पांच साल के गृहयुद्ध के बाद इस समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे जिसने सैकड़ों हजारों लोगों की जान ले ली थी।

संयुक्त राष्ट्र के अनुसार दक्षिण सूडान के गृह युद्ध में 20 लाख 10 हजार मिलियन लोग आंतरिक रूप से विस्थापित हो गए, और 20 लाख 50 हजार लोगों को अन्य देशों में शरण लेनी पड़ी।

सुलह के लिए संत पापा का प्रयास

संत पापा फ्राँसिस ने रविवार को  अप्रैल में वाटिकन में दक्षिण सूडान के राजनीतिक नेताओं के लिए आयोजित आध्यात्मिक साधना को याद किया, जिसमें राष्ट्रपति सलवा कीर मयार्दित और विपक्ष के नेता रीच मचार शामिल थे।

आध्यात्मिक साधना के दौरान संत पापा ने घुटने टेककर दक्षिण सूडानी नेताओं में से कई के पैर चुंबन कर सुलह का अभूतपूर्व इशारा प्रदर्शन किया।

संत पापा ने 10 नवंबर को देश की "राजनीतिक प्रक्रिया के सभी अभिनेताओं को आमंत्रित किया कि वे सच्चे भाईचारे की भावना से एकजुटता का प्रयास करें और उन सभी मुद्दों को दूर करें जो उन्हें विभाजित करती है।”

संत पापा ने उनसे आग्रह किया कि वे बिना थके, राष्ट्र की भलाई के लिए सर्वसम्मति की खोज में एक समावेशी संवाद के लिए अपनी प्रतिबद्धता को जारी रखें। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय भी दक्षिण सूडान के राष्ट्रीय पुनर्मिलन के रास्ते में मदद करेगा।

11 November 2019, 16:18