खोज

Vatican News
प्रार्थना करते हुए संत पापा फ्राँसिस प्रार्थना करते हुए संत पापा फ्राँसिस  (vatican media)

पवित्रता एक उपहार और एक आह्वान है,संत पापा फ्राँसिस

पवित्रता ईश्वर की कृपा है इसे स्वीकार करने और जीने के लिए सभी ख्रीस्तीय स्वतंत्र हैं।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 4 नवम्बर, 2019 (रेई) : संत पापा फ्राँसिस ने  3 नवम्बर रविवारीय पूजन विधि के लिए लिये गये पाठ, धनी नाकेदार जकेयुस के मद्देनजर ट्वीट प्रेषित कर सभी ख्रीस्तियों को ईश्वर के करुणामय प्रेम का आभास कराया।

संदेश में उन्होंने लिखा, “आज का सुसमाचार (लूकस 19: 1-10) हमें बताता है कि प्रभु की करुणामय निगाहें, हमारे महसूस करने से पहले ही हम तक पहुँच जाती हैं कि हमें मुक्ति की आवश्यकता है।” 

सोमवार 4 नवम्बर के ट्वीट नें संत पापा ने लिखा, “पवित्रता ईश्वर की कृपा है और यह हमारी स्वतंत्र प्रतिक्रिया का फल है। पवित्रता एक उपहार और एक आह्वान है।”

04 November 2019, 16:16