Cerca

Vatican News
अमाजोन धर्मसभा के शुरुआत अमाजोन धर्मसभा के शुरुआत  

अमाजोन धर्मसभा पर का संत पापा का ट्वीट संदेश

संत पापा फ्राँसिस ने अमाजोन धर्मसभा की शुरुआत अमाजोन के कई भाई-बहनों को याद करते हुए किया जो भारी क्रूस ढ़ो रहे हैं और कलीसियाई प्रेम के सुसमाचार द्वारा अपनी मुक्ति की प्रतीक्षा कर रहे हैं। हमें अमाजोन के लोगों को समझने और उनकी सेवा करने पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 07 अक्टूबर 2019 (रेई) : संत पापा फ्राँसिस ने रविवार 6 अक्टूबर को दो ट्वीट प्रेषित किया। पहले ट्वीट को रविवारीय पूजनविधि हेतु चयनित संत लूकस के सुसमाचार के उस दृष्टांत से लिया जहाँ एक सेवक की विनम्रता के बारे में कही गई है। रविवार को संत पापा ने संत पेत्रुस महागिरजाघर में पवित्र युखारीस्तीय समारोह के साथ अमाजोन धर्मसभा का उद्घाटन किया। दूसरे ट्वीट को संत पापा ने अमाजोन धर्मसभा पर केंद्रित करते हुए अमाजोन के भाई-बहनों के दुखों की परवाह करते हुए उनके साथ यात्रा करने हेतु सभी को प्रेरित किया।

संत पापा का पहला ट्वीटः “आज के सुसमाचार में येसु हमें बतलाते हैं कि विश्वास का माप सेवा है। "हम बेकार सेवक हैं, "यह सेवक के विनम्रता और उपलब्धता की अभिव्यक्ति है। यही अभिव्यक्ति कलीसिया के लिए भी बहुत अच्छी है।”

दूसरे द्वीट में संत पापा ने लिखा,“अमाजोन में हमारे बहुत सारे भाई-बहन भारी-भरकम क्रूस के बोझ तले दबे हुए हैं और कलीसियाई प्रेम के सुसमाचार द्वारा अपनी मुक्ति की प्रतीक्षा कर रहे हैं। आइये, हम उनके लिए और उनके साथ यात्रा करें।

7 अक्टूबर के ट्वीट में संत पापा ने अमाजोन धर्मसभा के प्रतिभागियों के लिए प्रार्थना की मांग करते हुए लिखा,“मैं इस महत्वपूर्ण कलीसियाई धर्मसभा के लिए आपसे प्रार्थनाओं की अपील करता हूँ, ताकि इस धर्मसभा में पवित्र आत्मा भ्रातृत्व और विनम्रता में अनुभव किया जा सके, जो हमेशा सुसमाचार की गवाही का मार्ग दिखाते हैं।”  

07 October 2019, 16:46