खोज

Vatican News
"मैराथन दौड़" में भाग लेते प्रतिभागी "मैराथन दौड़" में भाग लेते प्रतिभागी  (ANSA)

"विया पाचिस" द्वारा शांति, भाईचारा और वार्ता का संदेश

देवदूत प्रार्थना का पाठ करने के उपरांत संत पापा ने देश-विदेश से आये सभी तीर्थयात्रियों एवं पर्यटकों का अभिवादन किया, खासकर, उन्होंने "विया पाचिस" (शांति मार्ग) दौड़ में भाग लेने वालों का अभिवादन किया। "विया पाचिस" दौड़ में भाग लेने वालों ने रोम शहर के सड़कों को पार किया ताकि शांति, भाईचारा और सबसे बढ़कर विभिन्न संस्कृतियों एवं धर्मों के बीच वार्ता का संदेश ला सकें।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

उसके बाद संत पापा ने पोलैंड के काथलिक मिशन दल, प्रोचिदा पल्ली के गायक दल "संत लेओनार्दो", फ्लोरेंस के दृढ़ीकरण प्राप्त बच्चों और बेल अमोरे धर्मसमाज की धर्मबहनों का अभिवादन किया जो अपने धर्मसमाज की स्थापना का 25वाँ वर्षगाँठ मना रहे हैं। 

उसके बाद संत पापा ने शरणार्थियों एवं अप्रवासियों के लिए ख्रीस्तयाग की घोषणा की जिसका आयोजन 29 सितम्बर को किया गया है। उन्होंने ख्रीस्तयाग में भाग लेने हेतु सभों को निमंत्रण देते हुए शरणार्थियों एवं अप्रवासियों के प्रति अपना आध्यात्मिक सामीप्य प्रकट किया।

अंत में संत पापा ने अपने लिए प्रार्थना का निवेदन करते हुए सभी को शुभ रविवार की मंगल-कामनाएँ अर्पित की।

विया पाचिस
विया पाचिस

 

 

23 September 2019, 15:51