Cerca

Vatican News
मडागास्कर में संत पापा फ्राँसिस मडागास्कर में संत पापा फ्राँसिस  (AFP or licensors)

विश्वास में मजबूत होने का साक्ष्य देते हुए अफ्रीकी देशों के लोग

संत पापा फ्राँसिस दवारा तीन अफ्रीकी देशों का दौरा करने के बाद, संचार विभाग के प्रीफेक्ट ने कलीसिया के रहस्य पर प्रतिबिंबित किया जो संत पेत्रुस के उत्तराधिकारी के करीब एकत्रित हुई थी।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 11 सितम्बर 2019 (रेई) : संचार विभाग के प्रीफेक्ट पावलो रुफिनी ने संत पापा के प्रेरितिक यात्रा के सभी कार्यक्रमों में भाग लिया। उन्होंने कहा कि संत पापा फ्राँसिस की मोज़ाम्बिक, मडागास्कर और मॉरीशस की यात्रा का एक पहलू है जो इसके महत्व को कम किए बिना, संत पापा की अन्य सभी यात्राओं के साथ न केवल जोड़ता है बल्कि इसे और मजबूत करता है। यह पहलू है संत पापा के इन्तजार में भक्त समुदाय का बड़ी संख्या में एकत्रित होना। संत पापा के प्रेरितिक कार्य है ईश्वर के लोगों को एकजुट करना। लोगों की एक विशाल भीड़, उनके चेहरे, उनकी आँखें, उनके हाव-भाव, उनकी अपेक्षा की अभिव्यक्ति, उनकी खुशी, एक मुलाकात की ताकत को दर्शाती है।

ख्रीस्तियों का विशाल समूह जो खुले स्थानों में, कई किलोमीटर तक सड़कों के दोनों ओर संत पापा को एक नजर देखने और उनका आशीर्वाद पाने हेतु घंटों इन्तजार करते हुए व्यक्तिगत और सामूहिक रुप से अपने अपने विश्वास को दिखाते हैं।

सैकड़ों हजारों की संख्या में एकत्रित लोगों ने संत पेत्रुस के उत्तराधिकारी के सामने अपने विश्वास को आनंद के साथ घोषित किया।

सैकड़ों हजारों लोग, जो अपने में ईश्वर की उपस्थिति के मूर्त रूप हैं, ईश्वर स्वयं उन चेहरों में खुद को व्यक्त करने का इंतजार करते हैं।

सैकड़ों हजारों लोग, संत पेत्रुस के उत्तराधिकारी और कलीसिया की सारी शक्ति का प्रदर्शन करते हैं।

झलकियों के आदान-प्रदान में, नाजुकता और विश्वास का यह मिलन, कलीसिया का रहस्य है जिसे प्रभु ने पेत्रुस को और उनके उत्तराधिकारियों को सौंपा। "मुनुस पेट्रिनो" भी का रहस्य है जो कलीसिया को कठिनाइयों का सामना करने की शक्ति देता है।

संत पापा ने विमान में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान इस बारे में बात की। जब उन्होंने एक संभावित मतभेद (सिज्मः विधर्म) के बारे में एक सवाल के जवाब में कहा कि वे डरते नहीं हैं, और वे प्रार्थना में भरोसा करते हैं। उन्होंने मोजाम्बिक, मालगासी, मॉरीशस की आबादी के विश्वास का उल्लेख करते हुए कहा कि ख्रीस्तीय धर्म के प्रचार और प्रसार प्रेम और एकजुटता से हुए न कि धर्मांतरण से।  

11 September 2019, 17:44