Cerca

Vatican News
अन्तानानारिवो में आकामासोआ योजना के तहत सक्रिय श्रमिक सन्त पापा फ्राँसिस के साथ अन्तानानारिवो में आकामासोआ योजना के तहत सक्रिय श्रमिक सन्त पापा फ्राँसिस के साथ  (ANSA)

निर्धनता को परास्त करने के लिये नवीन विकास नीतियों की आवश्यकता

मडागास्कर के अन्तानानारिवो स्थित आकामासोआ योजना के तहत मैत्री शहर की भेंट कर सन्त पापा फ्राँसिस ने रविवार को अन्तरराष्ट्रीय समुदाय का आह्वान किया वे वैश्विक निर्धनता को परास्त करने के लिये नई विकास रणनीतियों की बहाली करें।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

अन्तानानारिवो, सोमवार, 9 सितम्बर 2019 (रेई, वाटिकन रेडियो): मडागास्कर के अन्तानानारिवो स्थित आकामासोआ योजना के तहत मैत्री शहर की भेंट कर सन्त पापा फ्राँसिस ने रविवार को अन्तरराष्ट्रीय समुदाय का आह्वान किया वे वैश्विक निर्धनता को परास्त करने के लिये नई विकास रणनीतियों की बहाली करें।

04 सितम्बर को काथलिक कलीसिया के परमधर्मगुरु सन्त पापा फ्राँसिस मोज़ाम्बिक, मडागास्कर तथा मॉरिशियुस में अपनी छः दिवसीय प्रेरितिक यात्रा के लिये रोम से रवाना हुए थे। सोमवार 09 सितम्बर को मॉरिशियुस के पोर्ट लूईस का दौरा करने के उपरान्त मंगलवार 10 सितम्बर को वे पुनः रोम लौट रहे हैं। इटली से बाहर सन्त पापा फ्रांसिस की यह 31 वीं प्रेरितिक यात्रा थी।

आकामासोआ का मैत्री शहर

आर्जेन्टीना के काथलिक पुरोहित फादर पेद्रो ओपेका द्वारा स्थापित आकामासोआ के मैत्री शहर के लोगों ने विगत 30 वर्षों के अन्तराल में पत्थर की खदान में कठिन परिश्रम कर पत्थरों को मकानों, अस्पतालों एवं स्कूलों के निर्माण कार्य में लगाने के लिये काम किया है।

मैत्री शहर की साफ सुथरी सड़कों पर कतारों में खड़े रहकर ग्रामीणों, छात्रों और खदान के श्रमिकों ने रविवार को सन्त पापा फ्राँसिस का अपने बीच स्वागत किया। हज़ारों बच्चों ने गीत गाकर तथा वाटिकन एवं मडागास्कर के रंगबिंरगे ध्वज़ों को फहराकर, जयनारों एवं करतल ध्वनि से उनका भावपूर्ण स्वागत किया।

फ्रेंच भाषा में युवाओं से बातचीत करते हुए सन्त पापा ने उन्हें बताया कि फादर पेद्रों सन् 1967 और 68 में बोयनुस आयरस के गुरुकुल में उनके छात्र रहे थे। सन्त पापा ने बताया कि हालांकि, फादर पेद्रो का ध्यान पढ़ाई में कम ही लगता था, वे काम करने के लिये सदैव तत्पर रहा करते थे।   

आकामासोआ योजना अन्तरराष्ट्रीय एजेन्सियों द्वारा दिये जानेवाले अँशदान से चलाई जाती है तथा इसे मडागास्कर की सरकार द्वारा मान्यता मिली है। इस योजना के तहत सन् 1989 से अब तक लगभग 20 गाँवों में 4,000 मकानों का निर्माण हुआ है जिसमें 25,000 से अधिक लोग निवास करते हैं। इनमें से लगभग 700 लोग चट्टान की खदान में श्रमिक हैं तथा लगभग 14,000 बच्चे स्कूलों में पढ़ते हैं।     

सन्त पापा फ्रांसिस की भेंट के लिये आभार व्यक्त करते हुए फादर पेद्रो ओपेका ने कहा, "बहिष्कार का यह स्थल  आज पूरी दुनिया के भाइयों और बहनों के लिये सहभागिता प्रीतिभोज बन गया है।"

09 September 2019, 11:18