Vatican News
महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल में बाढ़ से तबाह लोग महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल में बाढ़ से तबाह लोग  (AFP or licensors)

भारत के बाढ़ पीड़ितों को संत पापा की सहानुभूति

संत पापा फ्राँसिस ने भारत के बाढ़ पीड़ितों के प्रति अपनी सहानुभूति प्रकट की है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 13 अगस्त 2019 (रेई)˸ संत पापा फ्राँसिस ने भारत के बाढ़ पीड़ितों के प्रति अपनी सहानुभूति प्रकट की है।

वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पीयेत्रो परोलिन ने भारत के अधिकारियों को एक तार संदेश प्रेषित कर संत पापा की ओर से सभी बाढ़ पीड़ितों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना प्रकट की है।

मानसून की भारी वर्षा के कारण दक्षिण भारत में बाढ़ और भूस्खलन से करीब 184 लोगों की मौत हो गयी है और लगभग 4,00,000 लोग विस्थापित हैं।  

कार्डिनल परोलिन ने लिखा, "केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र और गुजरात में विगत दिनों मानसून से, जीवन की भयंकर क्षति की घटना सुन, संत पापा फ्राँसिस अत्यन्त दुःखी हैं। वे उन लोगों की याद करते हैं जिन्होंने अपना घर और जीविका खो दिया है तथा उन लोगों के प्रियजनों को अपनी हार्दिक संवेदना प्रदान करते हैं जिन्होंने अपना जीवन गवाँ दिया है।"

उन्होंने तार संदेश में कहा है कि संत पापा राहत कर्मियों के लिए प्रार्थना करते हैं तथा पूरे देश पर बल और धीरज की दिव्य आशीष की कामना करते हैं।

केरल की स्थिति सबसे ज्यादा खराब है यहाँ बाढ़ के कारण करीब 76 लोगों की मौत हुई है और करीब 2,88,000 लोग इससे प्रभावित हैं। कर्नाटक में करीब 40 लोगों की मौत हुई है और 5,82,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने के कारण घर छोड़ना पड़ा है।  

13 August 2019, 16:12