Cerca

Vatican News
भारत में बाढ़ और भूस्खलन भारत में बाढ़ और भूस्खलन  (AFP or licensors)

संत पापा ने एशियाई देशों में बाढ़ पीड़ितों के लिए प्रार्थना की

संत पापा फ्राँसिस ने 15 अगस्त को देवदूत प्रार्थना के उपरांत दक्षिण एशिया के उन देशों की याद की जो बाढ़ से प्रभावित हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 15 अगस्त 19 (रेई)˸ उन्होंने उनके प्रति अपनी सहानुभूति प्रकट करते हुए कहा, "मैं दक्षिण एशिया के उन देशों के प्रति अपना आध्यात्मिक सामीप्य प्रकट करता हूँ जो मानसून की वर्षा से बुरी तरह प्रभावित हैं। मैं इसके शिकार लोगों, विस्थापितों एवं बेघर परिवारों के लिए प्रार्थना करता हूँ। प्रभु उन्हें तथा राहत कार्यों में लगे हुए लोगों को शक्ति प्रदान करे।"

चेस्तोकोवा के तीर्थयात्री

उसके बाद संत पापा ने पौलैंड के चेस्तोकोवा में तीर्थयात्रियों की याद कर कहा, "आज पोलैंड के चेस्तोकोवा में अनेक तीर्थयात्री धन्य कुँवारी मरियम के स्वर्गोदग्रहण का पर्व मनाने के लिए जमा हुए हैं तथा परमधर्मपीठ एवं पोलैंड के बीच राजनायिक संबंध के पुनरुद्धार की शतवर्षीय जयन्ती मना रहे हैं। मैं उन सभी का अभिवादन करता हूँ जो माता मरियम के चरणों पर एकत्रित हैं। मैं उनसे समस्त कलीसिया के लिए प्रार्थना का आग्रह करता हूँ।"

सीरिया के लोगों के प्रति संत पापा की सहानुभूति

तत्पश्चात् उन्होंने सीरिया के लिए विशेष प्रार्थना करने का आह्वान करते हुए कहा, "मैं आपको प्रार्थना के द्वारा साथ देने का आग्रह करता हूँ। मैं सीरिया के भाई-बहनों के लिए एक बड़ी मात्रा में रोजरी को आशीष प्रदान करूँगा। एड टू द चर्च इन नीड की पहल पर करीब 6 हजार रोजरियाँ यहां रखी गयी हैं। आज माता मरियम के इस महान पर्व दिवस पर मैं उनपर आशीष प्रदान करता हूँ और उन्हें सामीप्य के चिन्ह स्वरूप, सीरिया के काथलिक समुदायों में बांटे जायेंगे, खासकर, उन परिवारों में बाटें जायेंगे जिन्होंने युद्ध के कारण अपने किसी प्रियजन को खोया है।

संत पापा ने कहा कि विश्वास के साथ की गयी प्रार्थना शक्तिशाली होती है। हम मध्यपूर्व और पूरे विश्व में शांति के लिए प्रार्थना करना जारी रखें।

अंत में संत पापा ने सभी विश्वसियों का अभिवादन करते हुए उन्हें माता मरियम के स्वर्गोदग्रहण पर्व की शुभकामनाएँ दीं।    

15 August 2019, 16:39