खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस  (ANSA)

चिली के काथलिक विश्वविद्यालय को संत पापा का वीडियो संदेश

संत पापा फ्राँसिस ने चिली में यौन दुराचार निवारण केंद्र क्वीदा के उद्घाटन पर एक वीडियो संदेश में उन सभी लोगों को धन्यवाद दिया जो इस परियोजना को बढ़ावा देने में शामिल हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 15 अगस्त 19 (रेई)˸ संत पापा फ्रांसिस ने वीडियो संदेश में कहा कि वे इस अवसर पर वहाँ उपस्थित होना चाहते हैं जब क्वीदा फाऊँडेशन की स्थापना हो रही है।

उन्होंने कहा कि इस नये केंद्र का उद्देश्य न केवल निवारण और दुराचार की गंभीर समस्या का सामना करना है बल्कि खोज करना और नीतियों का अनुसंधान करना भी है जो अधिक से अधिक नाबालिगों को शोषण और हेरफेर से बचा सके जो किसी न किसी तरह उनके हृदय को नष्ट करता है।

बच्चों की रक्षा

संत पापा फ्राँसिस ने चिली के काथलिक विश्वविद्यालय एवं "फूंदासियोन पारा ला कोनफियात्सा" को संदेश भेजा। ये दोनों संस्थाएँ नये क्वीदा केंद्र की स्थापना के लिए जिम्मेदार हैं। अपने संदेश में संत पापा ने इन संस्थाओं का आह्वान किया कि "वे बच्चों की देखभाल करें।"

उद्घाटन समारोह के दौरान काथलिक विश्वविद्यालय इग्नासियो संकेज के रेक्टर ने नये केंद्र की प्राथमिकता पर प्रकाश डाला और कहा कि इसकी प्राथमिकता है सार्वजनिक नीति को सहयोग देना जो बच्चों और युवाओं के लिए, अधिक सम्मानपूर्ण और सुरक्षित समाज के निर्माण को समर्थन दे सके।  

दुराचार दूर करना

"फूंदासियोन पारा ला कोनफियात्सा" की स्थापना 2010 में दुराचार के शिकार लोगों के द्वारा की गयी थी जो पूर्व पुरोहित फेर्नांदो कादिमा द्वारा यौन दुराचार के शिकार हुए थे।

क्वीदा एक शैक्षणिक और अनुसंधान केंद्र है जिसकी स्थापना वैज्ञानिक सबूत इकट्ठा करने, सार्वजनिक नीतियों को बढ़ावा देने और दुरुपयोग के क्षेत्र में रोकथाम और कार्रवाई के लिए उपकरण विकसित करने और नाबालिगों की सुरक्षा के लिए बनाया गया है।

15 August 2019, 16:46