खोज

Vatican News
बुजूर्गों से बातें करते संत पापा बुजूर्गों से बातें करते संत पापा 

परिवार और समाज में नाना-नानी का महत्व

संत पापा फ्राँसिस ने 26 जुलाई को येसु के नाना-नानी संत ज्वाकिम और संत अन्ना के पर्व दिवस पर इंस्टेग्राम में फोटो पोस्ट करते हुए शुभकामनाएँ दीं तथा पारिवारिक जीवन एवं समाज में वयोवृद्धों के महत्व पर प्रकाश डाला।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

उन्होंने संदेश में लिखा, "आज संत ज्वाकिम और संत अन्ना का पर्व है, कई देशों में इसे नाना–नानी के पर्व दिवस के रूप में मनाया जाता है। पारिवारिक जीवन में मानवीय एवं धार्मिक धरोहर को हस्तांतरित करने में नाना-नानी कितने महत्वपूर्ण हैं जो हरेक समाज के लिए अति आवश्यक है।"  

एक नाना और उसकी नतनी
एक नाना और उसकी नतनी
27 July 2019, 12:45