Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस 

‘फे ये अलेग्रिया’ में कोई बेकार नहीं, सभी शामिल हैं, संत पापा

संत पापा ने वाटिकन में अंतरराष्ट्रीय ‘फे ये अलेग्रिया’ फेडरेशन के निदेशक मंडल से मुलाकात की। उनके संदेश का मुख्य सार था कि ‘फे ये अलेग्रिया’ में कोई बेकार नहीं, सभी शामिल हैं।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 19 जून 2019 ( रेई) : संत पापा फ्राँसिस ने सोमवार 17 जून को वाटिकन में अंतरराष्ट्रीय ‘फे ये अलेग्रिया’ फेडरेशन के निदेशक मंडल से मुलाकात की।

यह अभिन्न लोक-प्रिय शिक्षा और सामाजिक विकास को बढावा देने वाला एक आंदोलन है, जो विशेष रूप से दूर दराज देहातों और सीमांत क्षेत्रों में काम करने वाले पुरुषों और महिलाओं के विकास को बढ़ावा देता है, उनका मानना है कि शिक्षा के द्वारा ही लोगों में परिवर्तन, वास्तविकता का ज्ञान और विकास लाया जा सकता है।

‘फे ये अलेग्रिया’ फेडरेशन ने संत पापा के संदेश को वीडियो रिकार्ड किया। संत पापा के संदेश का सार इस प्रकार है, “नायकों के पास आयोजक नहीं हैं। ‘फे ये अलेग्रिया’ के नायकों के लिए प्रत्येक स्थान या केंद्र में अलग से एक प्रभारी का रहना जरुरी नहीं है। नायक आप सभी है! और चूंकि इस फेडरेशन में अधिकांश युवा लोग हैं ‘फे ये अलेग्रिया’ का नायक सभी युवा पुरुष और युवा महिलाएं हैं। यह आपके हाथ में है! आप न केवल ‘फे ये अलेग्रिया’ के नायक हैं बल्कि पूरी मानवता के नायक हैं।”

संत पापा ने संदेश में कहा,“आपको इसे आगे बढ़ाना हैं अन्यथा इसका भविष्य खत्म हो जाएगा। आप वर्तमान हैं और आप भविष्य भी हैं और आपको आज उन सभी चीजों को आगे ले जाना है जो उन्हें भ्रम से निकालती और युवाओं को शामिल करने की क्षमता रखती है।”

“आज की संस्कृति में जो लाभकारी नहीं है या उपयोगी नहीं है उसे दरकिनार किया जाता है। बहुत सारे बच्चों को बाहर रखा गया है क्योंकि वहाँ कोई शिक्षा नहीं है, बुजुर्गों को इसलिए बाहर रखा गया है क्योंकि वे और काम नहीं कर सकते ... बीमारों को बाहर रखा गया है। सब कुछ जो आर्थिक, वित्तीय और तकनीकी विकास नहीं करता है, उन्हें अब बाहर रखा जाता है। ‘फे ये अलेग्रिया’ इसके विपरीत है: यहाँ सब कोई शामिल हैं, यहाँ कोई बेकार नहीं हैं।”  

19 June 2019, 12:40