Cerca

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस  (AFP or licensors)

अंतरराष्ट्रीय काथलिक-यहूदी संपर्क समिति को संत पापा का अभिवादन

बुधवारीय आमदर्शन के दौरान अंतरराष्ट्रीय काथलिक-यहूदी संवाद समिति का अभिवादन कर उनके कार्यों के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि संवाद एक दूसरे को बेहतर ढंग से समझने और सहिष्णुता का माहौल बनाने एवं धर्मों के बीच सम्मान का निर्माण करने का सर्वोत्तम तरीका है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 15 मई 2019 (रेई) :  संत पापा फाँसिस ने वाटिकन के संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण में बुधवारीय आमदर्शन के दौरान अंतरराष्ट्रीय काथलिक-यहूदी संवाद समिति का अभिवादन कर उनके कार्यों के लिए धन्यवाद दिया।

संत पापा ने कहा, “आप जो यहूदी-काथलिक संवाद में लगे हुए हैं। मैं आपकी समिति की इस चौबीसवीं बैठक को संभव बनाने के लिए, अंतरराष्ट्रीय यहूदी समिति के लिए अंतर-धार्मिक परामर्शदाताओं, यहूदियों के साथ धार्मिक संबंधों के आयोग और इतालवी धर्माध्यक्षीय सम्मेलन का आभारी हूँ।”

‘नोस्त्रा एताते’ फलप्रद

संत पापा ने कहा कि ‘नोस्त्रा एताते’ की धोषणा से लेकर अब तक, यहूदी-काथलिक संवाद काफी फलप्रद रहा है। हम एक समृद्ध आध्यात्मिक विरासत साझा करते हैं जिसे और अधिक सम्मानित और सराहना की जानी चाहिए क्योंकि हम दूसरों के साथ आपसी समझ और भाईचारे को साझा करने की प्रतिबद्धता में बढ़ते हैं। इस संबंध में, आपकी बैठक अधिक से अधिक आपसी सहयोग को बढ़ावा देने में मदद करती है। यह भी उचित है, कि आप वर्तमान समय के मुद्दों जैसे शरणार्थियों की मदद करने के लिए सबसे अच्छे तरीके को अपनाते हैं। यहूदी विरोधी लड़ाई की पुनरावृत्ति और दुनिया के विभिन्न हिस्सों में ख्रीस्तियों का उत्पीड़न चिंता का विषय है।

संत पापा ने संवाद को आगे बढ़ाने हेतु प्रोत्साहित किया और कहा, “संवाद एक दूसरे को बेहतर ढंग से समझने और सहिष्णुता का माहौल बनाने एवं धर्मों के बीच सम्मान का निर्माण करने का सर्वोत्तम तरीका है। हमारी ताकत संवाद की कोमल ताकत में है, न कि वर्तमान में उभर रहे अतिवाद से, जो केवल संघर्ष की ओर ले जाती है। कोई भी वार्ता की चाह करने वाला गलत नहीं हो सकता। शास्त्र बताता है कि “बुरी योजनाएं बनाने वालों के मन में कपट की योजना होती है, लेकिन शांति समर्थकों के मन में आनंद है।” (सूक्ति 12:20)। अंत में संत पापा ने शांतिपूर्वक सभा हेतु अपनी शुभकामनाएं दी।

15 May 2019, 16:46