खोज

Vatican News
तमारा समाज केद्र के दौरे में संत पापा तमारा समाज केद्र के दौरे में संत पापा  (© Vatican Media)

मोरक्को : तमारा में मुसलमानों की मदद करने वाली 3 धर्मबहनें

संत पापा फ्राँसिस रविवार की सुबह राबाट के बाहरी इलाके तमारा में एक सामाजिक केंद्र का दौरा किया और उस क्षेत्र के गरीबों की मदद करने वाली संत विंसेंट डी पॉल की दया की पुत्रियों के कार्यों की सराहना की।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

राबाट, सोमवार,1 अप्रैल 2019 (वाटिकन न्यूज) : तमारा मोरक्को की राजधानी राबाट से लगभग 20 किमी दूर, कासाब्लांका की सड़क पर स्थित है।

इस उपनगरीय क्षेत्र में, तीन धर्मबहनें "ग्रामीण सामाजिक सेवा केंद्र" चला रही हैं, जिसमें लगभग 150 बच्चों को आर्थिक और मनोवैज्ञानिक देखभाल करती हैं।

संत पापा फ्रांसिस ने अपने प्रेरितिक यात्रा के दौरान हाशिये पर जीवन बिताने वाले या असहाय लोगों से निजी तौर पर मुलाकात करने के लिए थोड़ा समय जरुर निकालते हैं। रविवार को संत पापा सामाजिक कार्य में संलग्न तीन बहनों और स्थानीय मुसलमानों से, जिनकी वे देखभाल करती हैं, मुलाकात करने गये।

गरीब परिवारों की देखभाल

सिस्टर ग्लोरिया कैरिलेरो, समुदाय की सुपीरियर 1990 से केंद्र में काम कर रही हैं। सिस्टर मारिया लुइसा क्विंताना दो साल बाद पहुंची, और सिस्टर मगदलेना मातेओ 2006 में आई। तीनों स्पेन की हैं। वे अपने मुस्लिम पड़ोसियों के बीच में रहती हैं, जिनके घर के आस-पास घेरा नहीं है और न ही उनकी खिड़कियों पर बार हैं।

यहाँ के लोग अपने घरों के बाहर खुली हवा में आग पर खाना बनाते हैं इस दरम्यान अनेक बच्चे और वयस्क भी आग से जल जाते थे। उनके घावों को ठीक करने के लिए 44 साल पहले इस केंद्र की स्थापना की गई।

इस केंद्र में धर्मबहनों की सहायता मोरक्को के स्थानीय शिक्षक और नर्सें करती हैं। हर दिन सुबह 8:00 बजे केंद्र का दरवाजा खोला जाता है और 3 से 15 साल के बीच के करीब 40 अपंग और अक्षम बच्चे आते हैं। स्कूली शिक्षा के साथ बच्चों को नाश्ता, और दोपहर का भोजन दिया जाता है।

01 April 2019, 16:25