खोज

Vatican News
अल्जाइमर रोगियों से मुलाकात करते हुए संत पापा अल्जाइमर रोगियों से मुलाकात करते हुए संत पापा   (Vatican Media)

दया शुक्रवार : संत पापा ने अल्जाइमर रोगियों से की मुलाकात

संत पापा फ्राँसिस ने अल्जाइमर रोग वाले लोगों के लिए समर्पित रोम के पास एक इमानुएल नामक गांव का दौरा किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार 13 अप्रैल 2019 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस ने "दया शुक्रवार" परंपरा को जारी रखते हुए रोम के बाहर उत्तरी इलाके में इमानुएल गांव का दौरा किया। संत पापा फ्राँसिस के साथ दौरे में नवीन सुसमाचार प्रचार के लिए बनी परमधर्मपीठीय सम्मेलन के अध्यक्ष, महाधर्माध्यक्ष रिनो फिशिकेल्ला थे।

इमानुएल गांव

इमानुएल ग्राम अल्जाइमर (भूलने की बीमारी) रोग से पीड़ित लोगों की देखभाल के लिए समर्पित है। यह एक वास्तविक गांव की तरह है, रोजमर्रा की जिंदगी के कई छोटे-बड़े पहलुओं को पेश करता है, जो इस बीमारी के साथ रहने वालों की सहायता करते हैं जो बाहरी दुनिया के साथ जुड़े रहते हैं और इस तरह  समाजीकरण और समावेश को बढ़ावा देते हैं। गाँव का नाम उसके संस्थापक के नाम पर रखा गया है, जो अल्जाइमर रोग से प्रभावित लोगों की आवासीय देखभाल के लिए एक अभिनव समाधान की शुरुआत की है।

संत पापा का दौरा

संत पापा फ्राँसिस के अचानक आगमन पर, गांव के प्रांगण में गांव वासियों और कर्मचारियों ने संत पापा का स्वागत किया गया। उन्होंने तब उपस्थित लोगों से बातें कीं तथा प्रत्येक के साथ आराम के शब्दों का आदान-प्रदान किया। इस दौरे द्वारा संत पापा फ्राँसिस अल्जाइमर रोगियों की स्थितियों की ओर ध्यान आकर्षित करना चाहते थे, जो अक्सर परिवार से बहिस्कृत और समाज द्वारा अकेले छोड़ दिए जाते हैं। जीवन में लम्बी उम्र इस बीमारी के साथ रहने वालों की जरूरतों और उनके सम्मान के लिए अधिक जागरूकता और सम्मान का आह्वान करती है।

23वीं विश्व अल्जाइमर दिवस 21 सितंबर 2016 को मनाया गया। उस अवसर पर, आमदर्शन के दौरान, संत पापा फ्राँसिस ने कहा: "मैं सभी से, माता मरियम की विनम्रता और दयालु येसु की कोमलता के साथ, इस बीमारी से प्रभावित लोगों और उनके परिवारों की याद करने के लिए आमंत्रित करता हूँ हम उन लोगों के लिए भी प्रार्थना करते हैं जो बीमार लोगों के करीब हैं, उनकी जरूरतों को, यहां तक कि सबसे असहाय लोगों की जरुरतों को समझते हैं, क्योंकि वे प्यार भरी आंखों से देखते हैं।"

भूलने की बीमारी

अल्जाइमर दिमेंशिया का सबसे आम रूप है। यह एक लाइलाज अपजनन बीमारी है। यह मस्तिष्क के कुछ हिस्सों में तंत्र कोशिका के विनाश के कारण होता है। यह स्मृति, भाषा और व्यवहार को प्रभावित करता है। प्रारंभिक निदान जटिलताओं और तेजी से गिरावट को रोकता है। दिमेंशिया दुनिया भर में 47 मिलियन लोगों को प्रभावित करता है और दुनिया भर में मौत का सातवां कारण है।

13 April 2019, 15:10