खोज

Vatican News
ब्राजील, कम्पीनास का गिरजाधर ब्राजील, कम्पीनास का गिरजाधर 

ब्राजील में भाईचारे अभियान हेतु संत पापा का संदेश

संत पापा ने ब्राजील की कलीसिया को उपवास, दान और प्रार्थना की प्रचलित प्रथाओं के माध्यम से प्रभु येसु के दुखभोग, मृत्यु और पुनरुत्थान में सहभागी होने के लिए अपने को तैयार करने हेतु आमंत्रित किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार, 06 मार्च 2019 (रेई) : ब्राजील में आज राख बुधवार के दिन दक्षिण अमरीकी देश (सीएनबीबी) के धर्माध्यक्षीय सम्मेलन ने ″परंपरागत भाईचारे का अभियान 2019″ का आयोजन किया है। इस सममेलन की विषय-वस्तु है "भाईचारे और सार्वजनिक नीतियाँ" है और इसका आदर्श वाक्य है "आपको कानून और न्याय से मुक्त किया जाएगा।"(इसायस 1,27)

इस अवसर पर संत पापा ने ब्राजील की कलीसिया के लिए संदेश भेजा। संदेश में उन्होंने चालीसा काल की शुरुआत में उपवास, दान और प्रार्थना की प्रचलित प्रथाओं के माध्यम से प्रभु येसु के दुखभोग, मृत्यु और पुनरुत्थान में सहभागी होने के लिए अपने को तैयार करने हेतु आमंत्रित किया। उन्होंने कहा कि मसीह के पास्का की ओर व्यक्तिगत और सामुदायिक यात्रा में, परंपरागत भाईचारे का अभियान, ब्राजील के ख्रीस्तियों को "सार्वजनिक नीतियों" का अभ्यास करने का प्रस्ताव देता है।

सार्वजनिक नीति

यद्यपि ‘सार्वजनिक नीति’ मुख्य रूप से राज्य की एक जिम्मेदारी है जिसका उद्देश्य नागरिकों के सामान्य भलाई की गारंटी देना है, सभी व्यक्तियों और संस्थानों को जीवन की सामाजिक परिस्थितियों को बढ़ावा देने वाली पहलों और कार्यों का नायक होना चाहिए जो व्यक्तियों, परिवारों और संगठनों को आसानी से अपनी पूर्णता प्राप्त करने की अनुमति देता है।"(गौदियुम एत स्पेस, 74)।

संत पापा ने कहा कि भाईचारे अभियान का आदर्श वाक्य "आपको कानून और न्याय से मुक्त किया जाएगा"(इसायस 1,27) से प्रेरित होकर मसीह के पदचिन्हों पर चलते हुए, समाज में अपने पड़ोसी के प्रति ठोस रूप से प्यार की सक्रिय भागीदारी की तलाश करनी चाहिए, जिससे कानून और न्याय पर आधारित भाईचारे की संस्कृति का निर्माण हो सके। अपारसिदा का दस्तावेज भी यह याद दिलाता है कि हर बपतिस्मा प्राप्त लोकधर्मी अपनी बुलाहट के अनुसार ईश्वर के राज्य के निर्माण में खमीर की तरह कार्य करता है। (न.505)

राजनीतिक नेतागण

विशेष रुप से, जो लोग औपचारिक रूप से राजनीति में समर्पित हैं, उनके लिए यह आवश्यक है कि वे "अपनी सेवा के जुनुन के साथ लोगों की पीड़ाओं को कम करते हुए और उनमें आशा दिलाने हेतु काम करें। राजनेता जो अपने निजी हितों से उपर आम लोगों की भलाई को रखते हैं, जो बड़े वित्तीय और मीडिया शक्तियों द्वारा भयभीत नहीं होते हैं, जटिल समस्याओं का सामना करने में सक्षम और धैर्यवान हैं, वे लोकतांत्रिक संवाद को सुनने और सीखने के लिए खुले होते हैं, दया के साथ न्याय और सुलह की खोज में लगे रहते हैं।

संत पापा ने अंत में ब्राजील के धर्माध्यक्षों और लोगों को चालीसा काल की आशामय और फलदायी यात्रा की शुभकामनाएँ दी। भाईचारे के अभियान की विषयवस्तु सभी ख्रीस्तियों को उनकी आंखें और दिल खोलने में मदद करे,जिससे कि वे सबसे जरूरतमंद भाइयों में देख सकें और उनकी मदद हेतु आगे आ सकें। संत पापा ने सभी लोगों को अपना प्रेरितिक आशीर्वाद देते हुए, अपारसिदा की माता मरियम के सुपुर्द किया।

06 March 2019, 15:35