खोज

Vatican News
मोरक्को की यात्रा में संत पापा फ्रांसिस मोरक्को की यात्रा में संत पापा फ्रांसिस 

संत पापा मोरक्को की प्रेरितिक यात्रा हेतु रवाना हुए

संत पापा फ्राँसिस रोम के फ्यूमिचीनो हवाई अड्डे से मोरक्को के लिए प्रस्थान किये। 3.15 घंटे की यात्रा के बाद वे मोरक्को के राबाट साले हवाई अड्डा पहुँचे। राजा मोहम्मद छठे की उपस्थिति में संत पापा फ्राँसिस की आधिकारिक स्वागत किया गया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

विमान,शनिवार, 30 मार्च 2019 (रेई) : संत पापा फ्राँसिस ने मोरक्को की दो दिवसीय प्रेरितिक यात्रा रोम के स्थानीय समय अनुसार, शनिवार 30 मार्च 10.45 बजे रोम के फ्यूमिचीनो हवाई अड्डे से अल इतालिया ए 320 द्वारा मोरक्को के लिए प्रस्थान किये।

उन्होंने मोरक्को की यात्रा के दौरान इटली, फ्रांस और स्पेन के ऊपर से गुजरते हुए उन सभी देशों को तार संदेश भेजा।

तार संदेश

संत पापा ने इटली के राष्ट्रपति सरजो मत्तारेल्ला को तार संदेश में सम्बोधित कर कहा, ″मैं मोरक्को की प्रेरितिक हेतु रोम छोड़ रहा हूँ ताकि मैं मोरक्को के उदार और प्यारे लोगों के साथ मिलकर अंतर-धार्मिक संवाद में भाग ले सकूँ और काथलिक समुदाय के साथ प्रार्थना में कुछ समय बिता सकूँ, उन्हें आशा और विश्वास में सुदृढ़ बनने हेतु प्रोत्साहन दे सकूँ।

 माननीय राष्ट्रपति महोदय! मैं आपको और इटली वासियों का अभिवादन करता हूँ। देश के सार्वजनिक भलाई, सहयोग एवं शांति की कामना करता हूँ। इटली वासी अपने आध्यात्मिक और नैतिक मूल्यों को प्राप्त करने में हमेशा प्रयासरत रहें।”

संत पापा ने मोरक्को की यात्रा के दौरान फ्रांस के राष्ट्रपति इमानुएल मक्रोन और स्पेन के राजा फिलिप छठे को भेजे तार संदेश में उन्हें, उनके परिवार और देश वासियों का अभिवादन किया। संत पापा ने समस्त देश में सुख शांति एवं ईश्वर की प्रचुर आशीष की कामना करते हुए, अपनी प्रार्थनाओं का आश्वासन दिया।

हवाई अड्डे पर स्वागत

संत पापा फ्राँसिस 1901 किलो मीटर की दूरी 3.15 धंटों में तय करके रोम समयानुसार 3.00 बजे और मारोक्को के समयानुसार 2.00 बजे मारोक्को के राबाट साले अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा पहुँचे। विमान रुकने के तुरंत बाद मोरक्को के लिए प्रेरितिक राजदूत एवं आल्बा के महाधर्माध्यक्ष वितो राल्लो विमान के अंदर जाकर संत पापा का स्वागत किया।

राबाट साले हवाई अड्डे पर बारिश हो रही थी। राजा मोहम्मद छठे की उपस्थिति में संत पापा फ्राँसिस की आधिकारिक स्वागत किया गया। उसके बाद संत पापा फ्राँसिस को 'पापमोबाइल' में और राजा मोहम्मद छठे को लिमोसिन में जुलूस के साथ, राजा मोहम्मद छठे के भव्य हसन की मस्जिद लिया गया, जहां दोपहर 2.40 को स्वागत समारोह सम्पन्न हुआ। अपराह्न 3.00 बजे, संत पापा फ्राँसिस ने मोरक्को के अधिकारियों, नागर समाज और राजनयिक कोर का अभिवादन किया और अपना संदेश दिया।

संत पापा फ्राँसिस शाम 4.00 बजे राजा मोहम्मद पांचवें के मकबरे का दौरा किया, फिर शाम 4.25 बजे, संत पापा फ्राँसिस राजा के महल जाकर राजा मोहम्मद छठे के साथ औपचारिक मुलाकात करेंगे।  शाम 5.10 बजे संत पापा फ्राँसिस मोहम्मद छठे संस्थान का दौरा करेंगे। यह इमामों और प्रचारकों का शिक्षण संस्थान है।

उसके बाद शाम 6.10 बजे संत पापा फ्राँसिस राबाट धर्मप्रांतीय कारितास मुख्यालय पहुँचेंगे। धर्मप्रांतीय कारितास निदेशक और तंगेरी के महाधर्माध्यक्ष संत पापा का स्वागत करेंगे। संत पापा फ्राँसिस प्रवासियों के साथ मुलाकात करेंगे और उनहें अपना संदेश देंगे। अधिकांश प्रवासी उप-सहारा अफ्रीका से हैं।

संत पापा फ्राँसिस के रहने की व्यवस्था राबाट प्रेरितिक भवन में किया गया है। संत पापा फ्राँसिस शाम 7,00 बजे राबात प्रेरितिक भवन आयेंगे। इस तरह संत पापा फ्राँसिस के प्रेरितिक यात्रा का पहला दिन समाप्त होगा।

30 March 2019, 16:11