खोज

Vatican News
"सेंट पीटर्स सर्कल" के सदस्यों के साथ संत पापा "सेंट पीटर्स सर्कल" के सदस्यों के साथ संत पापा  (ANSA)

आपकी प्रार्थनाओं, कार्यों एवं त्याग के लिए धन्यवाद, संत पापा

संत पापा फ्राँसिस ने "सेंट पीटर्स सर्कल" के सदस्यों से, संगठन की 150वीं वर्षगाँठ पर वाटिकन में मुलाकात की तथा उनकी उदारता के लिए धन्यवाद दिया एवं प्रोत्साहन दिया कि वे उनके लिए प्रार्थना करें।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

संत पापा ने कहा, "हर गरीब व्यक्ति हमारी चिंता के लायक है चाहे वह किसी भी धर्म, जाति या परिस्थिति में क्यों न हो।" उन्होंने गौर किया कि संगठन का मुख्य ध्यान रोम के गरीबों पर है।

उन्होंने कहा कि इस कार्य को करते हुए आप येसु की सेवा करते हैं जो हमें आश्वासन देते हैं कि इन नन्हों में से किसी एक के लिए भी तुमने कुछ किया, वह तुमने मेरे लिए किया।" मती. 25, 40.”

सेंट पीटर्स सर्कल

सेंट पीटर्स सर्कल की स्थापना सन् 1869 में, रोम के युवाओं द्वारा की गयी थी। करीब 150 वर्षों तक संगठन ने कलीसिया को उदार कार्यों द्वारा समर्थन देने का कार्य किया है ताकि सबसे जरूरतमंद लोगों को मदद दिया जा सके।  

संत पापा ने कहा कि इन सालों के कार्यों में सेंट पीटर्स सर्कल के तीन आधारभूत सिद्धांत रहे हैं- प्रार्थना, कार्य और त्याग।

उन्होंने कहा कि उनका कार्य उदारता के क्षेत्र में अधिक विकसित है। उन्होंने उन्हें प्रोत्साहन दिया कि वे दुने उत्साह के साथ इस कार्य को जारी रखें।

प्रार्थना का महत्व

संत पापा ने प्रार्थना के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा, "प्रार्थना की शक्ति और महत्व को न भूलें।" उन्होंने कहा कि उदार कार्य जिसको उन्होंने जारी रखा है उसे प्रार्थना के द्वारा समर्थन दिये जाने तथा ईश वचन सुनने के द्वारा प्रेरणा पाने की जरूरत है।

संत पापा ने कहा कि उनकी सफलता का रहस्य ख्रीस्त के प्रति विश्वस्त बने रहने एवं उनके साथ व्यक्तिगत संबंध स्थापित करने में है।

परिवर्तन का महत्व

संत पापा ने इस बात पर जोर दिया कि यह एक गंभीर परिवर्तन का समय है जिसमें  कलीसियाई समुदाय ख्रीस्त के संदेश का प्रचार करने तथा उनकी शक्ति को मानवीय- कृत करने के लिए बुलाया गया महसूस करता है।  

अंततः संत पापा ने संगठन के सभी सदस्यों को प्रोत्साहन दिया कि वे इस कठिन समय में भी अपने कार्यों के प्रति सजग रहें जिसकी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका है।

28 February 2019, 17:02