बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
बालक येसु के साथ माता मरियम बालक येसु के साथ माता मरियम  (©CURAphotography - stock.adobe.com)

माता मरियम के निष्कलंक गर्भागमन का पर्व

8 दिसम्बर को कलीसिया माता मरियम के निष्कलंक गर्भागमन का पर्व मनाती है जो बतलाती है कि माता मरियम पूर्ण रूप से शुद्ध और पवित्र थी।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 8 दिसम्बर 2018 (रेई)˸ सुन्दरता सभी पसंद करते हैं। आज सुन्दर बनने के कई उपायों का अविष्कार किया जा चुका है जिनका इस्तेमाल कर लोग अपनी सुन्दरता बढ़ाने का प्रयास करते हैं। किन्तु सच्ची सुन्दरता बाह्य सजावट पर निर्भर नहीं करती। हृदय की शुद्धता ही सच्ची सुन्दरता है।

8 दिसम्बर को कलीसिया माता मरियम के निष्कलंक गर्भागमन का पर्व मनाती है जो बतलाती है कि माता मरियम पूर्ण रूप से शुद्ध और पवित्र थी।

संत पापा ने एक ट्वीट प्रेषित कर माता मरियम की सुन्दरता का रहस्य बतलाया तथा सभी को पर्व की शुभकामनाएं दी।

उन्होंने संदेश में लिखा, "मरियम की सुन्दरता का रहस्य क्या है? उनकी पूर्ण शुद्धता, जो बाह्य रूप से दिखाई नहीं पड़ती, न ही समाप्त होती किन्तु यह ईश्वर के लिए पूर्ण रूप से समर्पित हृदय है।"

माता मरियम के इस पर्व दिवस के उपलक्ष्य में संत पापा फ्राँसिस रोम स्थित मरियम मजोरे महागिरजाघर जाकर माता मरियम को अपनी श्रद्धा सुमन अर्पित करेंगे।

संत पापा फ्राँसिस ने शुक्रवार के ट्वीट संदेश में पड़ोसियों की सेवा करने का प्रोत्साहन दिया। उन्होंने लिखा, "ईश्वर को प्यार करने का अर्थ है पड़ोसियों से बिना शर्त प्रेम करना तथा बिना रूके माफ करते जाना।"

08 December 2018, 14:14