Cerca

Vatican News
एक अंधा व्यक्ति को चंगा करते येसु एक अंधा व्यक्ति को चंगा करते येसु 

येसु को जानने का पहला कदम

धर्मशिक्षा में हम सीखते हैं कि ईश्वर ने हमारी सृष्टि इसलिए की है कि हम उन्हें जाने, पहचाने, प्यार करें एवं अंत में उनकी महिमा के सहभागी बनें।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 13 नवम्बर 2018 (रेई)˸ ईश्वर ने अपने एकलौटे बेटे येसु को इस संसार में भेजा ताकि उनके द्वारा हम उन्हें पहचान सकें तथा उनके बताये हुए मार्ग पर चलते हुए पिता के पास पहुँच सकें। 

ईश्वर के इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए हमें सबसे पहले येसु ख्रीस्त को पहचानने की आवश्यकता है। संत पापा फ्राँसिस ने मंगलवार के ट्वीट संदेश में येसु को जानने का रास्ता बतलाया। उन्होंने संदेश में लिखा, "येसु को जानने का पहला कदम है हमारी अपनी गरीबी एवं बचाये जाने की आवश्यकता को महसूस करना।"  

 

13 November 2018, 14:54