बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
धन्य जॉन बपतिस्ते फोक्वे धन्य जॉन बपतिस्ते फोक्वे 

धर्मप्रांतीय पुरोहित फोक्वे की धन्य घोषणा

धन्य जॉन बपतिस्ते फोक्वे ने 19वीं एवं 20वीं सदी में जीवन यापन किया तथा युवाओं, बुजूर्गों, गरीबों एवं बीमार लोगों के हित समाज सेवा एवं कल्याण के विभिन्न कार्यों को प्रोत्साहन दिया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

देवदूत प्रार्थना के उपरांत संत पापा फ्राँसिस ने सूचना देते हुए कहा कि आज, मारसेलीस में जॉन बपतिस्ते फोक्वे जो एक धर्मप्रांतीय पुरोहित थे उनकी धन्य घोषणा हुई।  

वे पर्वतारोहियों के आदर्श माने जाते हैं। उन्होंने 19वीं एवं 20वीं सदी में जीवनयापन किया तथा युवाओं, बुजूर्गों, गरीबों एवं बीमार लोगों के हित समाज सेवा एवं कल्याण के विभिन्न कार्यों को प्रोत्साहन दिया। उदारता के इस प्रेरित का आदर्श हमें कमजोर एवं वंचित लोगों का स्वागत करने एवं उन्हें बांटने हेतु हमारी प्रतिबद्धता को समर्थन प्रदान करे। संत पापा ने ताली बजाकर धन्य जॉन बपतिस्ते फोक्वे को सम्मानित किया।

सुलावेसी में सुनामी से तबाह लोगों के लिए प्रार्थना

संत पापा ने इंडोनेशिया के सुलावेसी में सुनामी से तबाह लोगों के लिए प्रार्थना की कि प्रभु उन्हें सांत्वना प्रदान करे तथा राहत कार्यों में लगे सभी लोगों को समर्थन प्रदान करें।

इसके बाद उन्होंने रोम तथा विश्व के विभिन्न हिस्सों से आये तीर्थ यात्रियों का अभिवादन किया, खासकर, उन्होंने कालपे स्पेन के विश्वासियों, महापौर दल के सदस्यों एवं सालज़बर्ग प्रांत के प्रशासकों का अभिवादन किया। उन्होंने विश्व बधिर दिवस पर विश्वभर के बधिर प्रतिनिधियों का अभिवादन किया।

संत पापा ने संत इजिदो समुदाय, शालोम आंदोलन के युवाओं, फोज्जा एवं रापाल्लो के विश्वासियों का भी अभिवादन किया।  

अंत में उन्होंने सभी से प्रार्थना का आग्रह करते हुए उन्हें शुभ रविवार की मंगलकामनाएँ अर्पित की।

01 October 2018, 14:56