बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
ग्वाटेमाला का एक गिरजाघर ग्वाटेमाला का एक गिरजाघर  (AFP or licensors)

न्याय एवं शांति को प्रोत्साहन देने हेतु समर्पित

देवदूत प्रार्थना के उपरांत संत पापा ने पीड़ित लोगों के प्रति सहानुभूति प्रकट की तथा नये धन्यों की याद की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

संत पापा ने अमरीका के पित्तसबर्ग शहर में यहूदी समुदाय के सभागृह में आक्रमण के शिकार लोगों के प्रति सहानुभूति प्रकट किया।

उन्होंने ग्वाटेमाला में धन्य घोषणा की याद दिलाते हुए कहा, "कल ग्वाटेमाला के मोराल्स में फ्रायर माईनर के जोश तुल्लियो मारूत्सो तथा लुई ओबदुलियो आरोयो नावारो की धन्य घोषणा हुई जो पिछली शताब्दी में, कलीसिया पर अत्याचार के दौरान विश्वास के लिए घृणा के कारण मार डाले गये। वे न्याय एवं शांति को प्रोत्साहन देने हेतु समर्पित थे। हम उनके लिए ईश्वर को धन्यवाद देते तथा ग्वाटेमाला की कलीसिया तथा विश्व के विभिन्न हिस्सों में, सुसमाचार का साक्ष्य देने के कारण अत्याचार के शिकार सभी दुर्भाग्य पूर्ण व्यक्तियों को उनकी मध्यस्थता में सिपूर्द करते हैं।" संत पापा ने दोनों नये धन्यों को ताली बजाकर सम्मानित किया।

इसके उपरांत संत पापा ने इटली तथा विभिन्न देशों के तीर्थयात्रियों एवं पर्यटकों का अभिवादन किया। खासकर उन्होंने स्लोवेनिया के मारिबोर के युवाओं, स्पानी फाऊँडेशन चेंत्रो अकादेमिको रोमानो तथा स्वीटर्जरलैंड के सन सिरो के धर्माध्यक्ष एवं पल्लिवासियों का अभिवादन किया। उन्होंने संत जॉन 23वें तीर्थ के स्वयंसेवकों, चेसेना एवं थिएना के विश्वासियों तथा पादुवा धर्मप्रांत के काथलिक अक्शन दल के बच्चों एवं सदस्यों की याद की।   

29 October 2018, 16:13