बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
पास्का के अवसर पर क्रूस दिखाता एक भारतीय बालक पास्का के अवसर पर क्रूस दिखाता एक भारतीय बालक  (AFP or licensors)

क्रूस का रहस्य

संत पापा फ्राँसिस ने 11 सितम्बर के ट्वीट संदेश में क्रूस के रहस्य की ओर ध्यान आकृष्ट किया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

हम हर रोज क्रूस का चिन्ह बनाते तथा पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा ईश्वर का नाम लेते हैं। क्रूस के चिन्ह को अपने शरीर में अंकित कर हम ईश्वर के महान प्रेम की याद करते हैं जिसको उन्होंने अपने एकलौटे पुत्र येसु को मानव जाति के बीच भेज कर प्रकट किया। जब हम किसी की भलाई हेतु कष्ट उठाते हैं तब हम भी येसु के इस प्रेम के रहस्य में सहभागी होते हैं जिसको उन्होंने हमारी मुक्ति के लिए अपने प्राणों की आहूति देकर पूरा किया है।

संत पापा फ्राँसिस ने क्रूस के इसी रहस्य की ओर ध्यान आकृष्ट करते हुए 11 सितम्बर के ट्वीट संदेश में लिखा, "येसु इस धरती पर आये ताकि हम स्वर्ग जा सकें, यही क्रूस का रहस्य है।"

11 September 2018, 16:00