बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
बोसी का मठ जहाँ अंतरराष्ट्रीय ख्रीस्तीय एकता सभा चल रही है। बोसी का मठ जहाँ अंतरराष्ट्रीय ख्रीस्तीय एकता सभा चल रही है। 

ऑर्थोडोक्स कलीसिया की धर्समभा को संत पापा का संदेश

संत पापा फ्राँसिस ने ऑर्थोडोक्स कलीसिया की आध्यात्मिकता पर, 26वीं अंतरराष्ट्रीय ख्रीस्तीय एकता धर्समभा को, एक संदेश प्रेषित कर सभा के प्रतिभागियों के लिए प्रार्थना की कि वे पवित्र आत्मा के सामर्थ्य से ईश्वर की योजना को समझ सकें।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

"आत्मजाँच एवं ख्रीस्तीय जीवन" विषय पर ऑर्थोडोक्स कलीसियाओं की अंतरराष्ट्रीय ख्रीस्तीय एकता धर्समभा का उद्घाटन 5 सितम्बर को बोसी में हुआ।  

वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पीयेत्रो परोलिन ने 5 सितम्बर को संत पापा की ओर से एक पत्र प्रेषित कर कहा, "संत पापा फ्राँसिस सभा के आयोजकों एवं उसके प्रतिभागियों का हार्दिक अभिवादन करते हैं। वे उनसे सच्चे आत्मजाँच पर चिंतन करने का आग्रह करते हैं, जिसे संत पौलुस, पवित्र आत्मा के एक वरदान के रूप में प्रस्तुत करते हैं।"

आत्मजाँच ईश्वर की कृपा

यह वरदान हमें ईश्वर और उनके समय के प्रति धीरज रखने की शिक्षा देता है। अतः संत पापा उम्मीद करते हैं कि सभा में व्यक्तिगत एवं सामुदायिक आत्मजाँच के मापदंड को बढ़ावा दिया जाएगा जो ईश्वर के ज्ञान एवं उनकी इच्छा को समझने हेतु आवश्यक है और इसी में परिपूर्ण जीवन निहित है।

कार्डिनल ने पत्र में लिखा कि इन्हीं उम्मीदों के साथ संत पापा सभा के प्रत्येक प्रतिभागी के प्रति अपना आध्यात्मिक सामीप्य प्रदान करते एवं अपने लिए प्रार्थना की कामना करते हैं।  

05 September 2018, 15:27