बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
अमोरिस लेतित्सिया अमोरिस लेतित्सिया 

आमोरिस लेतित्सिया एक दिशा-निर्देश, कार्डिनल बालदीसेरी

धर्माध्यक्षीय धर्मसभा के महासचिव जो संत पापा फ्राँसिस द्वारा आगामी सिनॉड के अध्यक्ष प्रतिनिधि नियुक्त किये गये हैं। युवाओं को संघर्ष करना चाहिए यदि वे परिवारों को सहयोग देना चाहते हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 17 जुलाई 2018 (वाटिकन न्यूज़)˸ परिवार की विषयवस्तु जिसे युवाओं के साथ जोड़ा गया है, उसे आगामी सिनॉड के महासचिव कार्डिनल लोरेंत्सो बलदीस्सेरी ने समझाने की कोशिश की है कि किस तरह युवाओं के सम्मेलन को प्रेषित विडीयो संदेश द्वारा संत पापा फ्राँसिस इस निकट एवं अविभाज्य संबंध को मजबूत करना चाहते हैं।

कार्डिनल बालदीस्सेरी ने कहा, "संत पापा फ्राँसिस ने युवाओं से कहा है कि वे परिवार का समर्थन करें ताकि यह एक ऐसा स्थल बना रहे जहाँ उनके भावी बच्चे अच्छी तरह और स्वस्थ तरीके से विकास कर सकें।"

मूल को भूले बिना परिवार में परिवर्तन

कार्डिनल ने कहा कि परिवार के बेहतरी के लिए यद्यपि इसमें बदलाव लाने की आवश्यकता है किन्तु संत पापा युवाओं को एक काम सौंपते हैं तथा उनसे अपील करते हैं कि वे हाथ पर हाथ धर कर बैठे न रहें। "उन्हें संघर्ष करना चाहिए।" उन्होंने कहा कि संत पापा युवाओं को बिना काम पड़े नहीं रहने बल्कि संघर्ष करने की अपील करते हैं। युवाओं को संघर्ष करने के लिए किन साधनों की आवश्यकता है? इसके लिए वे पहला साधन बतलाते हैं सही दिशा निर्देश जिसे प्रेरितिक उद्बोधन अमोरिस लेतित्सिया में पाया जा सकता है, खासकर, चौथे अध्याय में। कार्डिनल ने कहा कि उन्हें इन मूल्यों के लिए अभी और भविष्य में भी कार्य करने की आवश्यकता है, मूल अर्थात् अतीत को समाप्त किये बिना। संत पापा इसे स्पष्ट करते हैं कि इसके बिना भविष्य सम्भव नहीं है। परम्पराओं के साथ जो संबंध है उसे नहीं तोड़ने के लिए समाज को उनकी मदद करनी चाहिए, इसके लिए सभी को एक साथ प्रयास करना चाहिए।

युवाओं पर सिनॉड में प्रतिनिधि अध्यक्ष की नियुक्ति- स्थानीय कलीसियाएँ केंद्र में

कार्डिनल ने कहा कि युवाओं पर आगामी सिनॉड जो 3 से 28 अक्टूबर तक आयोजित है उसमें परिवार की विषयवस्तु को नहीं भूलाया जा सकता। यह उसके केंद्र में है, इसलिए भी क्योंकि इन दो वर्षों की तैयारी में उन्होंने अनुभव किया है कि युवाओं के हृदयों में उनकी सोच एवं इच्छाओं में परिवार होता है।

14 जुलाई को संत पापा फ्राँसिस ने सिनॉड के लिए चार प्रतिनिधि अध्यक्षों की नियुक्ति की, वे हैं, इराक के खलदेई प्राधिधर्माध्यक्ष कार्डिनल लुईस रफाएल प्रथम साको, मडागास्कर के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल देजिरे तसाराहाज़ाना एवं म्यानमार के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल चार्ल्स मौंग बो एस.डी.बी। 

कार्डिनल बालदीसिरी ने कहा कि संत पापा, इन नियुक्तियों द्वारा एक विश्वव्यापी छाप लाना चाहते हैं जो दुनिया के हर कोने को आकर्षित करेगा।

17 July 2018, 18:42