बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
22 जुलाई को भूमध्यसागर में जहाज टूटने के बाद कुल 122 आप्रवासियों को बचाया गया। 22 जुलाई को भूमध्यसागर में जहाज टूटने के बाद कुल 122 आप्रवासियों को बचाया गया।  (ANSA)

आप्रवासियों की सुरक्षा हेतु संत पापा की अपील

संत पापा फ्राँसिस ने रविवार 22 जुलाई को संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण में देवदूत प्रार्थना के उपरांत देश-विदेश से एकत्रित सभी तीर्थयात्रियों एवं पर्यटकों का अभिवादन किया तथा भूमध्यसागर में डूबने वाले आप्रवासियों की याद की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार, 23 जुलाई 2018 (रेई)˸ संत पापा ने कहा, "विगत सप्ताहों में भूमध्यसागर में जहाज जो आप्रवासियों से भरी थी उसके टूटने की उत्तेजक खबर मिली थी। मैं इस त्रासदी से शोकित हूँ तथा खोये हुए लोगों एवं उनके परिवारों के प्रति  आध्यात्मिक सामीप्य प्रकट करते हुए  अपनी प्रार्थना का आश्वासन देता हूँ।"

अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपील

संत पापा ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपील करते हुए कहा, "मैं अंतरराष्ट्रीय समुदाय से हार्दिक अपील करता हूँ कि वे ऐसी दुर्घटनाओं को दूर करने तथा सुरक्षा तय करने के लिए ठोस तथा तत्काल कदम उठायें तथा सभी के अधिकार एवं प्रतिष्ठा के लिए सम्मान सुनिश्चित करें।"

संत पापा का अभिवादन

इसके उपरांत संत पापा ने उपस्थित सभी लोगों का अभिवादन किया। उन्होंने खासकर, ब्राजील के रियो दू सुल के विश्वासियों, स्पेन के सेविल्ला धर्मप्रांत तथा पोलैंड के पेलप्लिन धर्मप्रांत के युवाओं का अभिवादन किया जो आगामी सिनॉड हेतु प्रार्थना करने के लिए असीसी आये हैं।

उन्होंने पल्ली दलों और संगठनों का भी अभिवादन किया तथा विचेंत्सा धर्मप्रांत के पियजोला सुल ब्रेनता के युवा दल की याद की।

अंत में, उन्होंने सभी से प्रार्थना का आग्रह करते हुए, शुभ रविवार की मंगलकामनाएं अर्पित की।

23 July 2018, 14:42