खोज

Vatican News
कोविद -19 के खिलाफ तैयार टीका किट को फिलाडेलफिया हवाईअड्डे से भेजने की तैयारी कोविद -19 के खिलाफ तैयार टीका किट को फिलाडेलफिया हवाईअड्डे से भेजने की तैयारी 

यूके धर्माध्यक्षों द्वारा कोविद -19 टीका लगाने हेतु प्रोत्साहन

इंग्लैंड और वेल्स के काथलिक धर्माध्यक्ष काथलिकों को कोविद -19 के खिलाफ टीका लगाने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं, उन्होंने कहा कि वे फ्रिजर & बायोटेक, मोदेरना और एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित किए गए टीकों का उपयोग करके पाप नहीं करते हैं, जो ब्रिटिश सरकार द्वारा इस सप्ताह अधिकृत किए गए थे।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वेल्स, शनिवार 5 दिसम्बर 2020 (वाटिकन न्यूज) :  कुछ लोगों ने ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय द्वारा निर्मित एस्ट्राजेनेका के कोरोना वायरस वैक्सीन की नैतिक अनुमति पर यह तर्क देते हुए सवाल उठाया है कि यह 1983 में एक गर्भस्थ भ्रूण की कोशिकाओं से उत्पन्न सेल-लाइनों से विकसित किया गया है।

इंग्लैंड एवं वेल्स के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन (सीबीसीइब्ल्यू) के सामाजिक न्याय विभाग द्वारा गुरुवार को जारी एक बयान के अनुसार, "कोई भी इस वैक्सीन को लगाकर पाप नहीं करता है।"

'पाप नहीं'

धर्माध्यक्ष रिचर्ड मोथ द्वारा हस्ताक्षरित बयान में आस्था एवं धर्म सिद्धांत के लिए बनी परमधर्मधर्मपीठीय परिषद और जीवन रक्षा केलिए परमधर्मपीठीय अकादमी (पीएवी) द्वारा व्यक्त किए गए विचारों का हवाला देते हुए कहा गया, "एक व्यक्ति अच्छे विवेक के लिए और एक गंभीर कारण के लिए एक टीका प्राप्त कर सकता है, बशर्ते वैक्सीन के वर्तमान प्रशासन और मूल गलत कार्रवाई के बीच पर्याप्त नैतिक दूरी हो।”

धर्माध्यक्ष मोथ ने कहा, "हम मानते हैं कि कोविद -19 महामारी टीका लेने का एक गंभीर कारण है। हममें से प्रत्येक का कर्तव्य है कि हम गंभीर बीमारी के खतरे से दूसरों को संक्रमण और कुछ के लिए मृत्यु से बचाएं। एक वैक्सीन इसे प्राप्त करने का सबसे प्रभावी तरीका है जब तक कि कोई व्यक्ति खुद को अलग करने का फैसला नहीं करता है।

“काथलिक अच्छे विवेक में स्वयं और दूसरों की भलाई के लिए टीका प्राप्त कर सकते हैं। कोई भी अच्छी अंतरात्मा की आवाज में, एक विशेष टीका को मना कर सकता है लेकिन दूसरों को संक्रमण से बचाना उसका परम कर्तव्य है।

05 December 2020, 14:12