खोज

Vatican News
वाटिकन संत पेत्रुस प्रांगण का क्रिसमस पेड़ वाटिकन संत पेत्रुस प्रांगण का क्रिसमस पेड़  (AFP or licensors)

क्रिसमस 2020: आशा की रोशनी अंधेरे में सबसे ज्यादा चमकदार

येसु का जन्म दुनिया में सबसे शक्तिशाली संकेत और आशा का संदेश है, जो कोरोना वायरस महामारी के कारण भय और अनिश्चितता की छाया से धुमिल हुआ है। हम आपको धार्मिक नेताओं और ईसाई चारिटी संगठनों के प्रमुखों की आवाज़ें लाते हैं क्योंकि वे एक ऐसे भविष्य को देखते हैं जिसमें "कोई भी अकेला अपने का बचा नहीं सकता।"

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 23 दिसम्बर 2020 (वाटिकन न्यूज) : दुनिया में आशा और मुक्ति का प्रकाश लाने वाले बालक येसु के जन्म का जश्न मनाते हुए, धर्मसंघों के सुपीरियर जनरलों के अंतर्राष्ट्रीय संघ की कार्यकारी निदेशक, सिस्टर पेट्रिसिया मर्रे ने अपनी सेल्टिक परंपरा के आधार पर एक संदेश दिया।

सिस्टर पेट्रीसिया हमें उन सभी के लिए प्रार्थना करने हेतु प्रेरित करती है जो एक मार्गदर्शक प्रकाश की आवश्यकता महसूस करते हैं:

यदि आपका मार्ग अंधकार से घिरा हुआ है, तो प्रभु आपके अंदर प्रकाश का उजाला दे और अंधेरा आपसे दूर करे।

यदि आपका मार्ग संघर्ष से भरा है, तो प्रभु आपके अंदर प्रेम को रखे और नफरत को दूर करे।

यदि आपके मार्ग को चिंता का खतरा है, तो प्रभु आपके भीतर शांति बनाए रखे और भय को दूर करे।

हे प्रभु, हम लंबे समय से आपके लिए इंतजार कर रहे हैं, अंधेरा गहरा होता जा रहा है, हम लम्बे समय से आपके आने की राह देख रहे हैं। हम जैसे भी हैं आप हमारे बीच आइये।

हम उन छायाओं से नहीं डरेंगे जो हमें घेरती हैं क्योंकि आप हमारे बीच आ रहे हैं। हम रात में रोने की आवाज़ का इंतजार करते हैं, दर्द के बाद खुशी आती है, हमारी दुनिया में आशा का आगमन होगा।

यूआईएसजी मसीह में निहित एक अंतर्राष्ट्रीय संघ है जो दुनिया भर में धर्मबहनों के धर्मसमाजों का प्रतिनिधित्व करता है। यह अपनी विविधता में प्रेरितिक धार्मिक जीवन की पहचान की गवाह और घोषणा करती है। यूआईएसजी का मिशन धर्मसमाजों के बीच पुलों का निर्माण करना है। इसका उद्देश्य धर्मसमाजी जीवन की समझ को बढ़ावा देना है और इसके सदस्य मानव तस्करी के खिलाफ लड़ाई, प्रवासियों की सुरक्षा, परस्पर संवाद, शिक्षा, न्याय, शांति और देखभाल की रचना सहित विभिन्न परियोजनाओं में शामिल हैं।

23 December 2020, 13:19