खोज

Vatican News
मनागुआ के महागिरजाघर में हमला के बाद प्रार्थना सभा में भाग लेते विश्वासी मनागुआ के महागिरजाघर में हमला के बाद प्रार्थना सभा में भाग लेते विश्वासी  (ANSA)

मनागुआ महागिरजाघर में हमला, संत पापा का सांत्वना संदेश

संत पापा फ्राँसिस ने मनागुआ के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल लेओपोल्दो ब्रेनेस को एक संदेश भेजकर, मनागुआ के महागिरजाघर में शुक्रवार को हुए हमले पर वहाँ के विश्वासियों के प्रति सहामुभूति प्रकट की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 4 अगस्त 2020 (वीएन)- मनागुआ के महाधर्माध्यक्ष को एक संदेश भेजकर संत पापा फ्राँसिस ने महागिरजाघर में हुए हमले के प्रति सहानुभूति प्रकट की।

संत पापा ने संदेश में लिखा, "प्यारे भाई, मैं तोड़फोड़ के इस दुखद कृत्य में आपके तथा आपके लोगों के साथ हूँ। मैं आप सभी के लिए प्रार्थना कर रहा हूँ।"

संत पापा फ्राँसिस ने रविवार को देवदूत प्रार्थना के उपरांत निकारागुआ की कलीसिया के लिए प्रार्थना की थी।

निकारागुआ महागिरजाघर पर हमला

विगत शुक्रवार को किसी अज्ञात हमलावर ने मनागुआ के महागिरजाघर में प्रवेश कर अन्य पवित्र वस्तुओं के साथ 400 साल पुराने क्रूस को जला दिया।

कार्डिनल ब्रेनेस ने यूट्यूब द्वारा प्रसारित ख्रीस्तयाग में घटना की निंदा करते हुए इसे एक आतंकवादी कृत्य कहा। उन्होंने संत पापा फ्राँसिस को उनके एकात्मतापूर्ण संदेश के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, "संत पापा के एक भाई एवं मित्र के समान सामीप्य महसूस करना कितना खूबसूरत है। सामीप्य हमें विश्वास में सुदृढ़ करता एवं आगे बढ़ने का प्रोत्साहन देता है।"

घटना के बाद कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। मेक्सिको के धर्माध्यक्षीय सम्मेलन ने हमले को एक निंदनीय कृत्य एवं दुखद घाव कहा तथा शांति एवं सौहार्द का आह्वान किया। इक्वोर, पनामा, कोतारिका और ग्वाटेमाला के धर्माध्यक्षों ने भी हमले की निंदा की है।  

गिरजाघर पर पहले के हमले

निकारागुआ के गिरजाघरों में पहले भी हमले हुए हैं। 29 जुलाई को अज्ञात लोगों ने निंनदीरी नगरपालिका स्थित माता मरिया सदा सहायिका के प्रार्थनालय को अपवित्र किया। जबकि 27 जुलाई को इसी शहर में, वेराक्रूज पल्ली में कार्मेल की माता मरियम के प्रार्थनालय के पवित्र संदूक को जमीन पर फेंक दिया गया था।

04 August 2020, 16:01