खोज

Vatican News
आयरलैंड में आर्मग के महाधर्माध्यक्ष एमोन मार्टिन आयरलैंड में आर्मग के महाधर्माध्यक्ष एमोन मार्टिन  

नागासाकी दिवस के लिए आयरिश महाधर्माध्यक्ष का संदेश

आयरलैंड में आर्मग के महाधर्माध्यक्ष एमोन मार्टिन ने 1945 में नागासाकी पर परमाणु बम गिराने की सालगिरह पर संदेश दिया, उनहोंने कहा कि परमाणु हथियारों का उपयोग और संचय अनैतिक है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

आर्मग, मंगलवार 11 अगस्त,2020 (वाटिकन न्यूज) : आर्मग के महाधर्माध्यक्ष एमोन मार्टिन ने रविवार को कहा, "युद्ध के लिए परमाणु ऊर्जा का विकास और परमाणु हथियारों का संचय हमारे विश्वास के अनुसार अनैतिक और असंगत है।"

पेनीबर्न के संत पैट्रिक गिरजाघर में महाधर्माध्यक्ष ने कहा कि हिरोशिमा और नागासाकी पर परमाणु हमलों के 75 साल बाद, "कई देश बड़े पैमाने पर विनाश के हथियारों को विकसित करना या संचय करना जारी रखे हैं, जो 1945 में हुए हमलों से कई गुणा ज्यादा शक्तिशाली और पूरे विश्व को विनाश करने में सक्षम हैं।"

महाधर्माध्यक्ष मार्टिन ने 2019 में संत पापा फ्रांसिस की "शांति के लिए एक तीर्थयात्री" के रूप में जापान की यात्रा को याद किया। उन्होंने इस तरह के हथियारों के विकास और संचय को समाप्त करने के लिए संत पापा फ्राँसिस की याचिका को प्रतिध्वनित किया और उनका दावा है कि आपसी विनाश की आशंका या कुल विनाश की आशंका पर शांति बनाने और बनाए रखने की कोशिश करना "असंगत" है।

अपने संबोधन में महाधर्माध्यक्ष मार्टिन ने रविवार के पाठ पर चिंतन किया, जहाँ भूकंप, हवा या आग के बजाय सौम्य हवा में ईश्वर की उपस्थिति की बात कही गई है और जब येसु पेत्रुस को पानी पर चलने के लिए आमंत्रित करता है, तो वह उसे प्रोत्साहन प्रदान करता है।

महाधर्माध्यक्ष मार्टिन ने आयरिशमैन जॉन ह्यूम के उदाहरण की ओर भी इशारा किया, जिनकी पिछले सप्ताह मृत्यु हो गई। जिन्होंने अपने पूरे जीवन में लोगों से आग्रह किया कि वे मतभेदों को सुलझाने और आकांक्षाओं को प्राप्त करने के लिए हिंसा का मार्ग कभी न अपनायें।

संत पापा फ्राँसिस की सभी से अपीलः "प्रार्थना और परमाणु हथियारों के उन्मूलन के लिए हर दिन काम करना, हृदय परिवर्तन और जीवन की संस्कृति, सामंजस्य और बंधुत्व" के साथ महाधर्माध्यक्ष एमोन ने अपना संबोधन समाप्त किया। उपस्थित लोगों के साथ प्रार्थना की, "प्रभु, मुझे आपकी शांति का साधन बनाइए।"

11 August 2020, 14:19